ICC’s Anti-Corruption Unit confirms Salman Butt’s presence during controversial All-Star T20 league
सलमान बट © Getty Images

मैच फिक्सिंग के दोषी पाए गए पाकिस्तान के पूर्व कप्तान सलमान बट एक बार फिर से फिक्सिंग के मामले में फंसते नजर आ रहे है। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद की भ्रष्टाचार रोधी यूनिट ने इस बात की पुष्टि की है कि वे हाल ही में अजमान ऑल स्टार टी20 लीग की जांच कर रही है वहां बट को भी देखा गया था। बट और तेज गेंदबाज मोहम्मद आसिफ पर स्पॉट फिक्सिंग के मामले में 2010 में पांच साल का प्रतिबंध लगा था। ये दोनों खिलाड़ी पाकिस्तान के कुछ अन्य खिलाड़ियों के साथ इस निजी टूर्नामेंट का हिस्सा थे।

अजमान ऑल स्टार लीग के मैच के खिलाफ फिक्सिंग के आरोपों की जांच करेगी आईसीसी
अजमान ऑल स्टार लीग के मैच के खिलाफ फिक्सिंग के आरोपों की जांच करेगी आईसीसी

टूर्नामेंट के प्रसारण फुटेज देखने का बाद आईसीसी हरकत में आयी। वीडियो में कुछ खिलाड़ियों को विवादित तरीके से आउट होते देखा गया जबकि कुछ का व्यवहार संदेहास्पद था। इस निजी लीग को एमिरात क्रिकेट बोर्ड और अजमान क्रिकेट परिषद ने गैरकानूनी करार दिया था। जिसके बाद भी बट और आसिफ के अलावा पाकिस्तान के पूर्व खिलाड़ी हसन रजा और मुहम्मद खलिल ने भी इसमें भाग लिया था।

बट ने पीटीआई से कहा, ‘‘स्पॉट फिक्सिंग मामले में फंसने के बाद मैं ऐसे विवादों से दूर रहने की कोशिश करता हूं। मैं खुश हूं की आईसीसी इसकी जांच कर रही है क्योंकि इसमें कई खामियां थी। मैंने वहां सिर्फ दो मैच खेले और फिर दुबई चला गया। मैं वहां इसलिए गया था क्योंकि मुझे लाहौर की वनडे टीम में नहीं चुना गया था। लेकिन जब मै वहां पहुंचा तब मुझे पता चला कि ये एमेच्योर टूर्नामेंट हैं जहां ना तो कोई मैच रेफरी था, ना ही आईसीसी भ्रष्टाचार रोधी यूनिट का अधिकारी और स्कोरर।’’