© AFP
© AFP

दुनिया की नंबर 1 टेस्ट टीम भारत पर दक्षिण अफ्रीका में साल 2018 की पहली ही सीरीज हारने का खतरा मंडरा रहा है। केपटाउन टेस्ट हारने के बाद अब सेंचुरियन में भी भारत हार की कगार पर दिख रहा है। दक्षिण अफ्रीका के 287 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए दूसरे क्रिकेट टेस्ट के चौथे दिन दूसरी पारी में टीम इंडिया ने तीन विकेट पर 35 रन बनाए। टीम इंडिया ने ओपनर मुरली विजय(9)और के एल राहुल(4) के विकेट के साथ-साथ कप्तान विराट कोहली (5) का भी बेशकीमती विकेट गंवा दिया। दिन का खेल खत्म होने पर चेतेश्वर पुजारा 11 जबकि पार्थिव पटेल पांच रन बनाकर खेल रहे थे। भारत को जीत के लिए अब भी 252 रन जबकि दक्षिण अफ्रीका को सात विकेट की दरकार है।

टीम इंडिया की खराब बल्लेबाजी
सेंचुरियन टेस्ट की दूसरी पारी में जब टीम इंडिया मैदान पर उतरी तो फैंस को उसके बल्लेबाजों से अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद थी लेकिन एक बार फिर टीम इंडिया की बल्लेबाजी फेल रही। मुरली विजय कागिसो रबाडा की गेंद पर बोल्ड हुए और के एल राहुल ने बेहद ही बचकाना शॉट खेल तेज गेंदबाज एन्गिडी को अपना विकेट दिया। इसके बाद कप्तान विराट कोहली भी एन्गिडी का शिकार हो गए। विराट एलबीडबल्यू आउट हुए और उन्होंने एक रिव्यू भी बर्बाद कर दिया। चेतेश्वर पुजारा और पार्थिव पटेल की जोड़ी किसी तरह खेल खत्म होने तक विकेट पर टिकी रही और चौथा विकेट नहीं गिरने दिया।

चौथे दिन का खेल
चौथे दिन का खेल द.अफ्रीका ने बेहद ही सकारात्मक अंदाज में शुरू किया। ए बी डीविलियर्स और डीन एल्गर ने पारी को बखूबी आगे बढ़ाया। खासकर डीविलियर्स ने कई बेहतरीन शॉट खेले। दोनों ने 90 रन से स्कोर को 144 रनों तक पहुंचा दिया। हालांकि इसके बाद शमी ने टीम इंडिया को चौथे दिन की पहली कामयाबी दिलाई। शमी ने डीविलियर्स को 80 रन पर निपटा कर टीम इंडिया को बड़ी सफलता दिलाई। हालांकि इस बीच डीन एल्गर ने अपना अर्धशतक पूरा किया लेकिन वो इस पारी को ज्यादा लंबा नहीं खींच सके और वो भी शमी की गेंद पर 61 रन पर पैवेलियन लौट गए। क्विंटन डी कॉक ने क्रीज पर आते ही तेज खेलने की कोशिश की लेकिन शमी की बेहतरीन ने उनका खेल 12 रनों पर खत्म कर दिया।

डु प्लेसी की कप्तानी पारी
लंच के बाद डु प्लेसी और फिलेंडर की जोड़ी ने दक्षिण अफ्रीका का स्कोर 200 रनों के पार पहुंचाया। इन दोनों के बीच 46 रनों की अहम साझेदारी हुई। इसके बाद तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा ने वेरनॉन फिलेंडर और केशव महाराज को आउट कर टीम इंडिया को दो अहम कामयाबियां दिलाई। हालांकि कप्तान डु प्लेसी विकेट पर टिके रहे और उन्होंने रबाडा के साथ 30 रनों की अहम साझेदारी कर दक्षिण अफ्रीका की बढ़त को 250 के पार पहुंचा दिया। इसके बाद मोहम्मद शमी ने रबाडा और बुमराह ने डु प्लेसी को आउट कर दक्षिण अफ्रीका को 9वां झटका दिया। आखिर में अश्विन ने एन्गिडी को आउट कर अफ्रीकी पारी को 258 रनों पर समेटा।