India vs England: Alastair cook will be big threat to India in test series, says Ashish Nehra
© Getty Images

भारत और इंग्‍लैंड के बीच 1 अगस्‍त से पांच मैचों की टेस्‍ट सीरीज की शुरुआत होनी है। बर्मिंघम में पहला टेस्‍ट शुरू होने में अब केवल दो दिन का वक्‍त ही बचा है। ऐसे में दोनों टीमें इस वक्‍त नेट्स में खूब पसीना बहा रही हैं। सीरीज की शुरुआत से पहले भारतीय टीम के पूर्व दिग्‍ग्‍ज गेंदबाज आशीष नेहरा ने ये भविश्‍यवाणी की है कि टेस्‍ट में इंग्‍लैंड के एलिस्‍टर कुक भारत के लिए सबसे बड़ी परेशानी बनेंगे।

वेस्‍टइंडीज के खिलाफ टी-20 में मुस्तफिजुर रहमान की वापसी
वेस्‍टइंडीज के खिलाफ टी-20 में मुस्तफिजुर रहमान की वापसी

ईएसपीएन क्रिक इनफो से बाचतीत के दौरान आशीष नेहरा ने कहा एलिस्‍टर कुक काफी बड़े खिलाड़ी हैं और इस वक्‍त वो अपनी अच्‍छी फॉर्म में चल रहे हैं। बता दें कि एलिस्‍टर कुक ने इंडिया ए के खिलाफ इंग्‍लैंड लॉयन्‍स की तरफ से खेलते हुए 180 रन की शानदार पारी खेली थी।

मोहम्‍मद शमी

आशीष नेहरा ने मोहम्‍मद शमी पर बोलते हुए कहा, “वो पहले 8-10 ओवरों में भले ही विकेट न निकाले, लेकिन जब वो विकेट निकालता है तो एक साथ कई विकेट निकालता है। आप पाएंगे की 18वें ओवर तक आते आते वो विरोधी टीम के कई विकेट निकाल चुका है।” नेहरा जी ने कहा, “‘शमी इस वक्‍त पूरी तरह से फिट है और वो इंग्‍लैंड के खिलाफ टेस्‍ट में अच्‍छा प्रदर्शन करेगा।” बात दें कि यो-यो फिटनेस टेस्‍ट पास नहीं कर पाने के कारण शमी को अफगानिस्‍तान के खिलाफ टेस्‍ट सीरीज से बाहर का रास्‍ता दिखा दिया गया था।

उमेश यादव

आशीष नेहरा ने उमेश यादव पर कहा, “भले ही वो चार या साढ़े चार की इकनॉमी से टेस्‍ट में रन दे, लेकिन निरंतर टीम के लिए विकेट निकालता रहेगा तो रन ज्‍यादा मायने नहीं रखते।

जसप्रीत बुमराह

नेहरा जी ने कहा, “जसप्रीत बुमराह का एक्‍शन टीम के लिए एक्‍स फैक्‍टर है। जब गेंद रिवर्स होने लगती है तो वो विरोधी टीम के लिए बड़ा खतरा बन जाते हैं। उनकी यार्क गेंदबाजी सबसे बेहतरीन हो जाती है।”

शार्दुल ठाकुर

आशीष नेहरा ने कहा, “शार्दुल ठाकुर एक अच्‍छा गेंदबाज है, लेकिन उसकी नकल गेंद टेस्‍ट क्रिकेट में ज्‍यादा काम नहीं करेगी। उसे बेसिक्‍स पर काफी काम करना होगा।”

भुवनेश्‍वर कुमार

आशीष नेहरा ने कहा, “भुवनेश्‍वर कुमार अच्‍छी‍ ‍स्विंग स्विंग करता है। एक दो साल में उसकी पेस बढ़ी है। वो लंबे स्‍पेल नहीं डाला पाता है। ऐसे में कप्‍तान को देखना होगा कि कैसे उसका इस्‍तेमाल करें।”