India vs England: Stuart Broad indicates all fast bowlers may not play 5 Tests matches
STUART BROAD © Getty Images

इंग्लैंड के तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड ने कहा है कि भारत के खिलाफ एक अगस्त से शुरू हो रही पांच टेस्ट मैचों की सीरीज में उन्हें और जेम्स एंडरसन को रोटेट किया जाएगा ताकि उनके वर्कलोड में संतुलन बनाया जा सके। ब्रॉड ने कहा, ‘‘ये टॉस, पिचों और वर्कलोड पर निर्भर करेगा। यदि 250 ओवरों के दो टेस्ट हो गए तो ये सोचना मुश्किल है कि सभी तेज गेंदबाज छह सप्ताह में पांचों टेस्ट खेलेंगे।’’

भारतीय टीम की धारदार गेंदबाजी, मेजबान टीम को 143 रन किया ढेर
भारतीय टीम की धारदार गेंदबाजी, मेजबान टीम को 143 रन किया ढेर

उन्होंने कहा, ‘‘जब पिच सपाट हो और स्पिनर काफी काम कर रहे हो तो आपको इतनी गेंदबाजी नहीं करनी पड़ती लेकिन जब गेंद रिवर्स स्विंग ले रही हो और पिच हरी भरी हो तो कई बार आपका काम कई गुना बढ जाता है।’’ उन्होंने ये भी कहा कि टीम मैनेजमेंट पहले ही सूचित कर चुका है कि तेज गेंदबाजों का रोटेशन किया जायेगा।

ब्रॉड ने कहा,‘‘पहले ही इस पर चर्चा हो चुकी है कि किसी टेस्ट मैच से बाहर रहना पड़े तो दुखी होने की जरूरत नहीं है।ये कोई निजी हमला या बाहर करना नहीं है बल्कि मैनेजमेंट ये सुनिश्चित करना चाहता है कि सभी को बराबर मौका मिले।’’ उन्होंने कहा कि वो कभी खराब फार्म की वजह से बाहर नहीं होना चाहते।

उन्होंने कहा, ‘‘मैं ऐसे मुकाम पर नहीं पहुंचना चाहता जब मुझसे कहा जाए कि वापस लौटकर काउंटी क्रिकेट खेलो । आपके बाहर होने पर नये गेंदबाज आते हैं। आप टीम में रहते हैं तो ईकाई का हिस्सा रहते हैं। पांच टेस्ट मैचों में बदलाव तो किए जाएंगे लेकिन हम इसे समझते हैं।’’