© AFP
© AFP

द.अफ्रीका दौरे पर टीम इंडिया का पहला इम्तिहान शुक्रवार से शुरू हो रहा है। विराट कोहली की सेना द.अफ्रीका के खिलाफ पहला टेस्ट सेंचुरियन में खेलने वाली है। ये वो मैदान है जहां टीम इंडिया ने द.अफ्रीका से कभी कोई टेस्ट मैच नहीं जीता है। यहां की तेज और उछाल भरी पिच ने हमेशा टीम इंडिया के बल्लेबाजों के होश उड़ाए हैं। वैसे आपको बता दें टीम इंडिया को सेंचुरियन टेस्ट में द.अफ्रीका के तेज गेंदबाजों से ही नहीं बल्कि एक हनुमान भक्त से भी खतरा है। हम बात कर रहे हैं द.अफ्रीका के इकलौते बाएं हाथ के स्पिनर केशव महाराज की जो टीम इंडिया के खिलाफ पहले टेस्ट में उतरेंगे और उसकी मुश्किलें भी बढ़ाएंगे।

केशव महाराज के दादा काम की तलाश में भारत छोड़कर द.अफ्रीका में बस गए थे। हालांकि केशव महाराज ने फिर भी भारतीय परंपरा को संस्कृति को नहीं भुलाया। केशव महाराज हनुमान के बड़े भक्त हैं। अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर उन्होंने बजरंग बली की पूजा करते हुए फोटो भी शेयर की है। बाएं हाथ का ये स्पिनर कभी टीम इंडिया का फैन हुआ करता था लेकिन अब ये अपनी फेवरेट टीम के खिलाफ ही शुक्रवार को जंग छेड़ेगा।

“Jai Bhajrang Bali Hanuman”

A post shared by Keshav Maharaj (@keshavmaharaj16) on

 

केशव महाराज हैं जबर्दस्त स्पिनर
बाएं हाथ के स्पिनर केशव महाराज बेहद ही गजब के स्पिनर हैं। 14 टेस्ट में महाराज के नाम 56 विकेट हैं, जिसमें 3 बार वो एक पारी में 5 विकेट झटक चुके हैं। केशव महाराज की खास बात ये है कि वो अबतक भारतीय उपमहाद्वीप में नहीं खेले हैं। महाराज ने तेज और उछाल भरी पिच पर इतना शानदार प्रदर्शन किया है। केशव महाराज सबसे तेज 50 टेस्ट विकेट लेने वाले द.अफ्रीकी स्पिनर हैं। अबतक खेले 14 टेस्ट में सिर्फ एक बार ऐसा हुआ है जब केशव महाराज को विकेट ना मिला हो, वो भी उस मुकाबले में केशव ने सिर्फ 7 ओवर फेंके थे।

अपना 'ए' खेल खेलना चाहता हूं : मुरली विजय
अपना 'ए' खेल खेलना चाहता हूं : मुरली विजय

केशव महाराज की ताकत ये है कि अगर वो किसी बल्लेबाज की कमजोरी पकड़ लें तो उसे बार-बार आउट करते हैं। इंग्लैंड के खिलाफ 4 टेस्ट में उन्होंने जॉनी बेयरस्टो को 5 बार आउट किया था। इसके अलावा महाराज ने जो रूट, एलिस्टर कुक और स्टीवन स्मिथ जैसे धाकड़ टेस्ट बल्लेबाजों को भी पैवेलियन की राह दिखाई। ऐसे में साफ है कि ये स्पिनर विराट कोहली एंड कंपनी के लिए बड़ा खतरा साबित हो सकता है।