© Getty Images
© Getty Images

दक्षिण अफ्रीका दौरे पर टीम इंडिया 3 मैचों की सीरीज के पहले 2 टेस्ट गंवा चुकी है और अब ऐसा लग रहा है कि तीसरे टेस्ट में भी उसे हार ही मिलने वाली है। विराट कोहली की अगुवाई में साल 2017 में श्रीलंका का क्लीन स्वीप करने वाली टीम इंडिया का जोहान्सबर्ग में क्लीन स्वीप होने वाला है और इसकी वजह है न्यू वॉन्डरर्स की पिच। द.अफ्रीका मीडिया की रिपोर्ट्स की मानें तो तीसरे टेस्ट के लिए तैयार की गई पिच पर अच्छी घास छड़ी गई है और मैच से पहले उस घास को ज़रा भी नहीं काटा जाएगा।

द.अफ्रीका को दूसरे टेस्ट में सेंचुरियन के मैदान पर थोड़ी सूखी पिच मिली थी जिससे मेजबान टीम का हर खिलाड़ी चौंक गया था। हालांकि फिर भी द.अफ्रीकी टीम ने टीम इंडिया को हरा दिया था। लेकिन तीसरे टेस्ट से पहले द.अफ्रीका ने साफ तौर पर मांग कर दी कि उन्हें जोहान्सबर्ग में हरी घसियाली पिच चाहिए, जिसमें तेजी और उछाल दोनों हो। द.अफ्रीकी टीम की इस मांग के बाद मैदान के चीफ पिच क्यूरेटर बेथ्युएल बूथलेही ने हरी और उछाल भरी पिच तैयार कर दी है, जिसमें शायद चौथे दिन ही नतीजा आ जाएगा। टीम इंडिया के बल्लेबाज़ पहले दो टेस्ट में पूरी तरह फ्लॉप रहे हैं और तीसरे टेस्ट की पिच देखकर भी कुछ ऐसा ही होने की आशंका दिखाई दे रही है।

टीम इंडिया का जोहान्सबर्ग में प्रदर्शन
वैसे टीम इंडिया के जोहान्सबर्ग में प्रदर्शन पर नजर डालें तो आपको थोड़ा सुकून होगा क्योंकि इस मैदान पर भारतीय टीम कभी कोई टेस्ट मैच नहीं हारी है। न्यू वॉन्डरर्स पर टीम इंडिया ने 4 टेस्ट मैच खेले हैं जिसमें उसे 1 में जीत मिली है और 3 टेस्ट ड्रॉ रहे हैं। इन सभी मुकाबलों में भी हरी पिच ही तैयार की गई थी जिसमें खुद द.अफ्रीकी टीम फंसी हुई नजर आई थी। पिछले पांच मैचों में द.अफ्रीकी टीम इस मैदान पर दो टेस्ट जीती है और 2 में उसे हार का सामना करना पड़ा है जबकि एक टेस्ट ड्रॉ रहा है। हालांकि टीम इंडिया की बेहद ही खराब फॉर्म को देखकर ये मुश्किल है कि जोहान्सबर्ग में द.अफ्रीकी टीम फेल हो।