India vs South Africa, 2nd T20I: Manish Pandey, MS Dhoni take visitors to 188/4
मनीष पांडे © AFP

मनीष पांडे और महेंद्र सिंह धोनी की धमाकेदार अर्धशतकीय पारियों की मदद से भारत ने सेंचुरियन में खेले जा रहे दूसरे टी20 मैच में दक्षिण अफ्रीका के सामने 189 रनों का लक्ष्य रखा है। जोहान्सबर्ग टी20 में अपनी धीमी पारी के लिए आलोचना झेल रहे पांडे आज मैदान पर अलग ही फॉर्म के साथ उतरे थे। 45 रन के स्कोर तीन विकेट गिरने के बाद बल्लेबाजी के लिए उतरे पांडे ने आते ही शॉट लगाना शुरू कर दिया। पांडे ने 48 गेंदो पर 6 चौकों और 3 छक्कों की मदद से 79 रन बनाए। उनका साथ देते हुए महेंद्र सिंह धोनी ने भी 28 गेंदो पर 52 रन जड़े। जिसकी मदद से टीम इंडिया 20 ओवर में 4 विकेट खोकर 188 रन बनाए।

मैच की शुरुआत में दक्षिण अफ्रीका के कप्तान जेपी ड्युमिनी ने टॉस जीतकर मेहमान टीम को पहले बल्लेबाजी का मौका दिया। टीम इंडिया की तरफ से पारी की शुरुआत करने आए रोहित शर्मा और शिखर धवन लय में नहीं दिखे। क्रिस मॉरिस के पहले ओवर की पहली ही गेंद पर धवन पूरी तरह बीट हुए। फील्ड अंपायर के आउट देने के बाद डीआरएस ने धवन का विकेट बचाया। वहीं रोहित शर्मा दूसरे ओवर में जूनियर डाला की पहली गेंद पर बिना खाता खोले आउट हो गए। पहले टी20 में जल्दी आउट होने के बाद भी कप्तान ने एक बार फिर सुरेश रैना को तीसरे नंबर पर भेजा।

रैना और धवन ने मिलकर पारी को संभाला, दोनों के बीच तीसरे विकेट के लिए 44 रनों की साझेदारी बनी। इस साझेदारी को कप्तान जेपी ड्युमिनी ने पांचवें ओवर में तोड़ा, जब ओवर की दूसरी गेंद पर धवन फरहान बेहारदीन के हाथों कैच आउट हुए। चौथे नंबर पर बल्लेबाजी करने आए कप्तान कोहली आज भी कुछ खास नहीं कर सके। कोहली 1 रन बनाकर जूनियर डाला के शिकार बने। रैना ने मनीष पांडे के साथ मिलकर टीम इंडिया का स्कोर आगे बढ़ाया। दोनों बल्लेबाजों ने लगातार चौके लगाते हुए 45 रनों की साझेदारी बनाई।

11वें ओवर में रैना के 30 रन बनाकर आउट होने के बाद मनीष पांडे और महेंद्र सिंह धोनी के साथ मिलकर स्कोरबोर्ड पर 100 का आंकड़ा लगाया। पांडे ने इसी बीच 33 गेंदो पर अपना अर्धशतक भी पूरा किया। ये पांडे के टी20 करियर का दूसरा अर्धशतक है। दूसरे छोर पर धोनी ने भी कई खूबसूरत शॉट लगाए और अपना अर्धशतक पूरा किया। दोनों के बीच एक अर्धशतकीय साझेदारी बनी। आखिरी 4 ओवर में दोनों बल्लेबाजों ने मिलकर कुल 55 रन जोड़े। जिसकी मदद से टीम इंडिया 188 रन का स्कोर खड़ा किया।