© Getty Images
© Getty Images

केप टाउन की तेज, उछाल भरी पिच और हवा में घूमती गेंदों ने टीम इंडिया के बल्लेबाजों की कलई खोल कर रख दी थी। जिसकी वजह से भारतीय टीम को पहले टेस्ट में 72 रनों की हार का सामना करना पड़ा था। द.अफ्रीका के तेज गेंदबाज चाहे वो कागिसो रबाडा, मॉर्ने मॉर्कल हों या फिर वेरनॉन फिलेंडर सभी ने विराट,धवन, पुजारा, रोहित सरीखे बल्लेबाजों को परेशान किया था। अब खबर आ रही है कि टीम इंडिया के बल्लेबाजों की दूसरे टेस्ट में और परेशानी बढ़ने वाली है क्योंकि अगले मुकाबले में जिस पिच का इस्तेमाल होने वाला है वो केप टाउन से भी तेज़ है।

सुपरस्पोर्ट की पिच तेज़
द.अफ्रीका और भारत के बीच दूसरा टेस्ट 13 जनवरी से सेंचुरियन के सुपरस्पोर्ट मैदान पर खेला जाना है जिसकी पिच में काफी ज़्यादा उछाल है। द.अफ्रीकी वेबसाइट स्पोर्ट 24 में छपी खबर के मुताबिक दूसरे टेस्ट के लिए इस्तेमाल होने वाली पिच काफी उछाल भरी और बहुत तेज़ होगी। सुपरस्पोर्ट पार्क के पिच क्यूरेटर ब्रायन ब्लॉय ने नेटवर्क 24 को कहा, ‘द.अफ्रीकी टीम मैनेजमेंट पिच में उछाल और तेजी चाहता था और हम वैसा ही करेंगे। हमारा मकसद ऐसी पिच तैयार करना है जिसमें सुबह गेंदबाजों को मदद मिले। ये बेहद ही तेज पिच होगी जिसपर गेंदबाजों को अतिरिक्त उछाल भी मिलेगा।’

दूसरे टेस्ट में खेल सकते हैं अजिंक्य रहाणे, अश्विन हो सकते हैं बाहर!
दूसरे टेस्ट में खेल सकते हैं अजिंक्य रहाणे, अश्विन हो सकते हैं बाहर!

द.अफ्रीका के कोच ओटिस गिब्सन दूसरे टेस्ट की पिच से बहुत खुश होंगे क्योंकि उन्होंने सोमवार को बयान दिया था कि वो अपनी घरेलू परिस्थितियों का पूरा फायदा उठाना चाहते हैं। गिब्सन ने कहा था कि वो तेज गेंदबाजी मानसिकता वाले कोच हैं और द.अफ्रीकी टीम में एक से बढ़कर एक तेज गेंदबाज हैं। ऐसे में साफ है टीम इंडिया को केप टाउन से तेज पिच सेंचुरियन में मिलने वाली है जहां उसे द.अफ्रीकी तेज गेंदबाजों खासकर फिलेंडर से बचकर रहना होगा, जिन्होंने पहले टेस्ट में 9 विकेट झटके थे।