India vs South Africa, 2nd Test: Centurion’s pitch is good for fast bowlers, says Faf du Plessis
फॉफ ड्यु प्लेसी © Getty Images

दक्षिण अफ्रीकी कप्तान फॉफ ड्यु प्लेसी ने कहा उन्होंने ऐसी पिचों की मांग की थी जहां तेज गेंदबाजों को मदद मिले और उन्हें इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि तेज गेंदबाजों के बूते टीम मैच जीत रही। भारत के खिलाफ मौजूदा सीरीज के दूसरे टेस्ट से पहले डुप्लेसिस ने कहा, ‘‘एक बल्लेबाज के तौर पर यहां हमारी पहली प्राथमिकता मैच जीतना हैं। अगर सीरीज में गेदबाजों को मदद मिलती है तो मिलने दीजिये। जब तब हम जीत रहे हैं ये अच्छा है।’’

दक्षिण अफ्रीकी कप्तान ने हालांकि कहा कि सुपरस्पोर्ट पार्क की पिच के बारे में जैसा उन्होंने सोचा था यह उससे ज्यादा भूरी है। उन्होंने कहा, ‘‘ग्राउंड्समैन से मिली जानकारी के मुताबिक पिछले सप्ताह कड़ी धूप और गर्मी के कारण विकेट पर मौजूद घास हरे से भूरे रंग की हो गयी है। यहां काफी गर्मी है। हमने तेज और उछाल भरी पिच की मांग कि थी, उम्मीद है यह वैसा ही होगी।’’

मैच प्रिव्यू- सेंचुरियन टेस्ट में पलटवार करना होगा टीम इंडिया का लक्ष्य
मैच प्रिव्यू- सेंचुरियन टेस्ट में पलटवार करना होगा टीम इंडिया का लक्ष्य

ड्यु प्लेसी ने कहा, ‘‘पिच पर थोड़ी घास है तो यह हमारे लिये अच्छा है, अगर यह कम स्कोर का मैच है तो हमारी कोशिश 20, 30 या 50 रन अधिक बनाने की होगी। मुझे उम्मीद है कि उछाल और गति कि साथ यह अच्छा विकेट होगा। हम गेंदबाजों को मदद करने वाली पिच बनाते है क्योंकि हम टेस्ट मैच जीतना चाहते है।’’

क्रिस मॉरिस हो सकते हैं चौथे गेंदबाज

सीरीज में 1-0 से आगे चल रही दक्षिण अफ्रीकी टीम के लिए अंतिम 11 खिलाड़ियों का चयन सिरदर्द बना हुआ है। चोटिल डेल स्टेन की जगह तेज गेंदबाज लुंगी एनगिड़ी अपने टेस्ट करियर का आगाज कर सकते हैं जिन्हें हरफनमौला क्रिस मॉरिस से कड़ी चुनौती मिल रही है।

ड्यु प्लेसी ने कहा, ‘‘फिलहाल हम मॉरिस को चौथे तेज गेंदबाज के विकल्प के तौर पर देख रहे हैं। अगर आप चार तेज गेंदबाजों का चयन करते हैं तो वो टीम में हो सकते हैं। टीम का तीसरा गेंदबाज होने के लिये उन्हें अपनी निरंतरता पर काम करना होगा। स्टेन, मॉर्ने मॉर्केल, वर्नोन फिलेंडर और कगिसो रबाडा इस मामले में उनसे कहीं बेहतर है। लेकिन चौथे गेंदबाज के तौर पर वह उपयुक्त है, उनके पास गति है और वह बल्लेबाजी भी कर सकते हैं।’’