India vs South Africa, 4th ODI: David Miller, Heinrich Klaasen’s smashing innings takes hosts to 5 wickets win in rain affected match

डेविड मिलर और हैनरिक क्लासेन की धमाकेदार बल्लेबाजी की बदौलत दक्षिण अफ्रीका ने जोहान्सबर्ग वनडे में भारत को 5 विकेट से हराकर अपने आप को सीरीज में बनाए रखा है। मिलर ने 28 गेंदो पर 4 चौकों औलर 2 छक्कों की मदद से 39 रन बनाए। वहीं क्लासेन ने 27 गेंदो पर नाबाद 43 रन जड़े। दक्षिण अफ्रीका अब भी 1-3 से सीरीज में पीछे है।

टीम इंडिया के दिए 290 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी दक्षिण अफ्रीका टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही। पारी की शुरुआत करने आए कप्तान एडेन मारक्रम आठवें ओवर में जसप्रीत बुमराह की गेंद पर एलबीडबल्यू आउट हो गए। कप्तान के आउट होने के बाद बारिश शुरू होने की वजह से मैच को रोक दिया गया। एक घंटे से भी ज्यादा समय तक मैच रूके रहने के बाद दक्षिण अफ्रीका के समय के हिसाब से रात 8:10 बजे मैच शुरू हुआ। बारिश की वजह से ओवरों में कटौती की गई और मेजबान टीम को 28 ओवरों में 202 रनों का लक्ष्य दिया।

ब्रेक के साथ हाशिम आमला और जेपी ड्युमिनी ने पारी को आगे बढ़ाया। नियमों के हिसाब से तीन गेंदबाज 6-6 ओवर करा सकते हैं और दो गेंदबाजों को 5-5 ओवर करने होंगे। भारतीय कप्तान भी बदले हुए हालात को देखते हुए नौवे ओवर में ही कुलदीप यादव को अटैक में ले आए। यादव ने 13वें ओवर में ड्युमिनी को चलता कर टीम को बड़ी सफलता दिलाई। 67 पर 2 विकेट गिरने के बाद एबी डी विलियर्स क्रीज पर आए। डी विलियर्स की शुरुआत धीमी रही लेकिन एक ओवर खेलने के बाद वो लय में आ गए। 15वें ओवर की पहली गेंद पर कुलदीप ने एक बार फिर अपना करिश्मा दिखाया और भारत को बड़ी सफलता दिलाई। बड़ा शॉट खेलने की कोशिश में आमला बाउंड्री पर भुवनेश्वर कुमार को कैच थमा बैठे। भुवनेश्वर ने बड़ी चालाकी से बिना बाउंड्री रोप को छुए आमला का कैच पकड़ा।

तीन विकेट गिरने के बाद डी विलियर्स का साथ देने के लिए डेविड मिलर क्रीज पर आए। बाकी के दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाजों की तरह डी विलियर्स भी कुलदीप यादव के सामने संघर्ष करते दिखे। वहीं 16वें ओवर में कोहली युजवेंद्र चहल को भी अटैक में ले आए। कुलदीप के मुकाबले डी विलियर्स चहल को आसानी से खेले। चहल के पहले ही ओवर में डी विलियर्स ने दो लगातार छक्के जड़े। 17वें ओवर में हार्दिक पांड्या ने टीम इंडिया को सबसे बड़ी सफलता दिलाई। ओवर की पांचवीं गेंद पर एक और बड़ा शॉट खेलने के कोशिश में डी विलियर्स रोहित शर्मा को फाइन लेग पर सीधे हाथ में कैच दे बैठे।

डी विलियर्स के आउट होने के बाद विकेटकीपर बल्लेबाज हैनरी क्लासेन क्रीज पर आए। 18वें ओवर में चहल की गेंद पर श्रेयस अय्यर ने मिकल का कैच छोड़ दिया। वहीं चहल ने ओवर की आखिरी गेंद पर मिलर को बोल्ड कर दिया लेकिन उनका पैर लाइन से बाहर था और अंपायर ने गेंद को नो बॉल करार दिया। मिलर को एक ही ओवर में दो जीवनदान मिले। जिसके बाद मिलर ने हार्दिक पांड्या की जमकर धुलाई की। 19वें ओवर में मिलर ने पांड्या की गेंद पर तीन लगातार चौके जड़े, ओवर में कुल 13 रन आए। मिलर और क्लासेन ने मिलकर शानदार बल्लेबाजी की और टीम को 150 करे पार पहुंचाया।

24वें ओवर में आखिरकार चहल ने मिलर को 39 के स्कोर पर आउट कर दिया लेकिन तब तक मैच भारत के हाथों से निकल चुका था। मिलर के आउट होने के बाद एंडिल फेहलुकवाओ ने क्लासेन के साथ मिलकर दक्षिण अफ्रीका को 5 विकेट से शानदार जीत दिलाई।