लाहिरु थिरिमाने © Getty Images
लाहिरु थिरिमाने © Getty Images

टीम इंडिया के पहले पारी में 172 रनों के जवाब में श्रीलंका ने तीसरे दिन चायकाल तक 113/2 का स्कोर बना लिया है। इस तरह से श्रीलंका टीम इंडिया से पहली पारी के आधार पर सिर्फ 59 रनों से पीछे है। लंच के बाद पारी की शुरुआत करने वाली श्रीलंका टीम को तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार ने धड़ाधड़ दो झटके दिए। उन्होंने पहले सदीरा समाराविक्रमा 23 (22) को साहा के हाथों झिलवाया और बाद में दिमुथ करुणारत्ने को एल्बीडब्ल्यू आउट कर दिया। इस तरह से श्रीलंका के 34 रनों पर दो विकेट गिर गए थे। ऐसे में लगा कि श्रीलंकाई पारी लुढ़क जाएगी। ऐसी विपरीत परिस्थिति में लाहिरू थिरिमाने और एंजलो मैथ्यूज ने मोर्चा संभाला।

इन दोनों ने संभलकर बल्लेबाजी और भारतीय गेंदबाजों के सामने गजब का साहस दिखाया। चायकाल तक दोनों तीसरे विकेट के लिए 79 रन जोड़ चुके हैं और इस तरह से दोनों ने पारी को संभाल लिया है। एंजलो मैथ्यूज (31) और लाहिरु थिरमाने (48) क्रीज पर हैं। अगर ये जोड़ी थोड़ी और देर के लिए जमी रहती है तो टीम इंडिया के लिए खतरा बन सकती है।

इससे पहले आज सुबह लंच के ठीक पहले टीम इंडिया अपनी पहली पारी में 172 रनों पर ऑलआउट हो गई। यह भारत का श्रीलंका के खिलाफ अपनी सरजमीं पर दूसरा सबसे कम स्कोर है इसके पहले साल 2005 चेन्नई में वे 167 रनों पर ऑलआउट हो चुके हैं। तेज गेंदबाजों के लिए मददगार रही इस पिच में टीम इंडिया शुरू से ही बैकफुट पर नजर आई। पहले दो दिन तो बारिश के भेंट चढ़ गए लेकिन तीसरे दिन पहली बार मैदान पर सूर्य देवता ने दर्शन दिए। लेकिन इसके बावजूद गेंदबाजों का कहर कम नहीं हुआ और वे निश्चित अंतराल में विकेट लेते नजर आए।

मनीष पांडे ने लगाया आतिशी दोहरा शतक, लौटे फॉर्म में
मनीष पांडे ने लगाया आतिशी दोहरा शतक, लौटे फॉर्म में

टीम इंडिया की ओर से सबसे ज्यादा रन चेतेश्वर पुजारा ने बनाए। पुजारा ने 117 गेंदों में 52 रन बनाए। इस दौरान उन्होंने 10 चौके लगाए। उन्हें गमाजे ने बोल्ड किया। उनके अलावा रिद्धिमान साहा ने 29 और रविंद्र जडेजा ने 22 रन बनाए। आखिरी पलों में मोहम्मद शमी ने धमाकेदार पारी खेली और वह 22 गेंदों में 24 रन बनाकर आउट हुए। टीम इंडिया के 6 बल्लेबाज तो दहाई का आंकड़ा तक नहीं छू पाए। भारत की ओर से सबसे बड़ी साझेदारी जडेजा और साहा ने सातवें विकेट के लिए 48 रनों की निभाई।

श्रीलंका की ओर से तेज गेंदबाज सुरंगा लकमल खासे सफल रहे और उन्होंने 21 रन देकर 4 विकेट झटके। उनके अलावा दसुन शनाका, लाहिरु गमाजे और दिलरुवान परेरा ने 2-2 विकेट झटके।