नुवान प्रदीप © AFP
नुवान प्रदीप © AFP

धर्मशाला वनडे में टीम इंडिया की नाक में दम करने वाले श्रीलंका के तेज गेंदबाज नुवान प्रदीप की मोहाली में ऐसी धुनाई हो गई, जिसे वो हमेशा याद रखेंगे। धर्मशाला में 10 ओवर में महज 37 रन देकर 2 विकेट लेने वाले नुवान प्रदीप ने मोहाली में अपने 10 ओवर के कोटे में शतक की लगा दिया। प्रदीप ने अपने 10 ओवर में 106 रन दे डाले और वो एक अनचाहे रिकॉर्ड की जमात में भी शामिल हो गए। नुआन प्रदीप वनडे में सबसे ज्यादा रन देने वाले गेंदबाजों की लिस्ट में चौथे नंबर पर आ गए हैं। नुवान प्रदीप श्रीलंका के पहले गेंदबाज हैं जिसने वनडे में 100 रन लुटाए हैं। इससे पहले मुथैयार मुरलीधरन ने अपने 10 ओवर में 99 रन दिए थे

वनडे में सबसे ज्यादा रन देने का रिकॉर्ड मिक लुइस के नाम है जिन्होंने साल 2006 में द.अफ्रीका के खिलाफ 113 रन खर्च कर दिए थे। पाकिस्तान के तेज गेंदबाज वहाब रियाज ने साल 2016 में इंग्लैंड के खिलाफ 110 रन लुटा दिए थे। टीम इंडिया के तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार ने भी साल 2015 में द.अफ्रीका के खिलाफ मुंबई वनडे में 106 रन दे डाले थे। अब श्रीलंका के तेज गेंदबाज ने भी 106 रन देकर भुवनेश्वर कुमार की बराबरी कर ली है। धर्मशाला में श्रेयस अय्यर और हार्दिक पांड्या को आउट करने वाले प्रदीप मोहाली में एक भी विकेट नहीं ले सके।

रोहित शर्मा ने रचा इतिहास, वनडे में जमाया तीसरा दोहरा शतक
रोहित शर्मा ने रचा इतिहास, वनडे में जमाया तीसरा दोहरा शतक

मोहाली में नुआन को पड़ी मार
नुवान प्रदीप का इकॉनमी रेट 10.60 रहा। उन्होंने 66 रन तो छक्के चौकों से ही लुटा दिए। प्रदीप की गेंदों पर 9 चौके और 5 छक्के लगे। यही नहीं उन्होंने 3 वाइड गेंद भी फेंकी। वैसे मोहाली में सिर्फ नुआन की ही पिटाई नहीं हुई। श्रीलंका के कप्तान तिसारा परेरा ने 8 ओवर में 80 और सुरंगा लकमल ने 8 ओवर में 71 रन दिए। जिसकी वजह से टीम इंडिया ने 50 ओवर में 392 रनों का विशाल स्कोर बना डाला।