© Getty Images
© Getty Images

नागपुर टेस्ट में तीसरे दिन का खेल खत्म होने तक टीम इंडिया ने मैच में पकड़ मजबूत बना ली है। स्टंप्स तक श्रीलंका ने अपनी दूसरी पारी में 1 विकेट पर 21 रन का स्कोर बना लिया है। इस तरह से श्रीलंका टीम इंडिया से 384 रन अभी भी पीछे है। चूंकि, लीड इतनी बड़ी है तो क्या श्रीलंका टीम इंडिया को कोई चुनौती दे पाएगी? बहरहाल, ऐसा बहुत कम ही दिखाई देता है। श्रीलंका के पहले विकेट के रूप में सदीरा समाराविक्रमा आउट हुए। उन्हें ईशांत शर्मा ने 0 पर बोल्ड कर दिया। दिमुत करुणारत्ने 11 रन बनाकर और लाहिरू थिरिमाने 9 रन बनाकर खेल रहे हैं।

इससे पहले टीम इंडिया ने आखिरी सेशन के थोड़ी देर पहले ही अपनी पहली पारी 610-6 के स्कोर के साथ घोषित कर दी। खेल के तीसरे दिन टीम इंडिया ने श्रीलंकाई गेंदबाजों की बखिया उधेड़ दी। पहले विराट कोहली ने दोहरा शतक जमाया और बाद में रोहित शर्मा ने शतक जड़ दिया। रोहित के शतक के फौरन बाद ही टीम इंडिया ने अपनी पहली पारी 610/6 के स्कोर के साथ घोषित कर दी। इसके साथ ही टीम इंडिया ने श्रीलंका पर 405 रनों की लीड हासिल कर ली है।

गौरतलब है कि श्रीलंका पहली पारी में 205 रनों पर ऑलआउट हो गई थी। चूंकि, अभी मैच के ढाई दिन बचे हुए हैं। ऐसे में क्या श्रीलंका मैच बचा पाएगी? ये एक बड़ा सवाल जरूर है। श्रीलंका की ओर से दिलरुवान परेरा ने सबसे ज्यादा 202 रन देकर 3 विकेट झटके। उनके अलावा लाहिरू गमागे, रंगना हेराथ और दसुन शनाका ने ने 1-1 विकेट झटके।

इसके पहले खेल के दूसरे दिन ओपनर मुरली विजय और चेतेश्वर पुजारा ने शतक जमाए। विजय 128 रन बनाकर आउट हुए वहीं पुजारा 143 रन बनाकर आउट हुए। इस तरह से मैच में 4 भारतीय बल्लेबाजों ने शतक जमाए। यह टेस्ट क्रिकेट इतिहास में तीसरा मौका है जब एक पारी में टीम इंडिया के बल्लेबाजों ने 4 शतक जमाए हैं।

तीसरे दिन का खेल: खेल के तीसरे दिन श्रीलंका को लंच से ठीक पहले एक सफलता मिली और शनाका ने पुजारा को (143) बोल्ड कर अपनी टीम को तीसरी सफलता दिलाई। इसके अलावा कोई भी गेंदबाज भारतीय बल्लेबाजों पर हावी नहीं हो सका और टीम विकेटों के लिए तरसती नजर आई। दूसरे दिन के स्कोर 312/2 से आगे खेलने उतरी भारतीय टीम के स्कोर को कोहली और पुजारा ने लगातार आगे बढ़ाया। दोनों बल्लेबाजों ने सोच-समझकर बल्लेबाजी की और श्रीलंकाई गेंदबाजों को विकेट लेने का कोई मौका नहीं दिया।

दूसरे दिन अर्धशतक लगाकर खेल रहे कोहली ने तीसरे दिन अपना करियर का 19वां टेस्ट शतक ठोका। जैसे ही कोहली ने शतक लगाया वैसे ही दर्शकों ने कोहली के लिए खड़े होकर तालियां बजाईं। वहीं श्रीलंका के खिलाफ कोहली के बल्ले से निकलने वाला ये चौथा शतक है। पुजारा ने आउट होने से पहले 143 रनों की पारी खेली और कोहली के साथ चौथे विकेट के लिए 183 रनों की साझेदारी की।

लंच के बाद 404/3 के स्कोर से आगे खेलने उतरी भारतीय टीम के स्कोर को कोहली और रहाणे ने आगे बढ़ाया ही था कि रहाणे (2) पर आउट हो गए। हालांकि रहाणे के आउट होने के बाद रोहित ने कोहली का अच्छा साथ दिया और दोनों टीम के स्कोर को 550 के पार ले गए। इसी दौरान विराट कोहली ने अपने टेस्ट करियर का पांचवां दोहरा शतक लगा दिया।

वैसे इस रिकॉर्ड दोहरे शतक के बाद कोहली ज्यादा देर तक ठहर नहीं सके और 213 रन बनाकर आउट हो गए। कोहली ने 17 चौके और 2 छक्के लगाए। कोहली जब आउट हुए तब रोहित शर्मा शतक के करीब थे। इसलिए कोहली ने रोहित के शतक तक के लिए रुकना ठीक समझा। रोहित ने जैसे ही शतक पूरा किया। भारत ने पहली पारी घोषित कर दी। रोहित 160 गेंदों में 102 रन बनाकर नाबाद रहे। उन्होंने 8 चौके और 1 छक्का लगाया।