© Getty Images
© Getty Images

करीब 1 साल बाद टेस्ट क्रिकेट में वापसी कर रहे रोहित शर्मा ने शानदार अंदाज में शतक लगाते हुए वापसी की है। नागपुर टेस्ट में रोहित शर्मा ने अपने चिरपरिचित अंदाज में बल्लेबाजी की और शानदार शतक लगाया। ये उनका टेस्ट क्रिकेट में तीसरा शतक है। रोहित ने अपनी 102 रनों की पारी के दौरान 160 गेंदों का सामना किया। इस दौरान उन्होंने 8 चौके और 1 गगनचुंबी छक्का लगाया। इस तरह से रोहित ने ताना बाना बुनने में कोई कसर नहीं छोड़ी।

गौर करने वाली बात है कि रोहित के बैट से टेस्ट क्रिकेट में ये शतक 4 सालों के बाद आया है। इसके पहले उन्होंने अपने करियर के दूसरे टेस्ट में वेस्टइंडीज के खिलाफ मुंबई में नाबाद 111 रनों की पारी खेली थी। रोहित ने अपने शुरुआती दोनों शतक अपने करियर के शुरुआती दो मैचों में लगा दिए थे जबकि उन्हें अपना तीसरा शतक लगाने के लिए 35 पारियों का इंतजार करना पड़ा।

रोहित शर्मा के शतक के साथ टीम इंडिया ने एक बड़ा रिकॉर्ड बना दिया है। जैसे ही रोहित ने शतक लगाया, इस पारी में टीम इंडिया के 4 बल्लेबाजों ने अपने शतक पूरे किए। रोहित के अलावा मुरली विजय ने 128, चेतेश्वर पुजारा ने 143 और विराट कोहली ने 213 रनों की पारी खेली। यह भारतीय क्रिकेट इतिहास में तीसरा वाकया है जब एक ही पारी में 4 बल्लेबाजों ने शतक लगाए हैं। इसके पहले साल 2010 में सहवाग, सचिन, लक्ष्मण और धोनी ने द. अफ्रीका के खिलाफ शतक लगाए थे। वहीं साल 2007 में बांग्लादेश के खिलाफ कार्तिक, जाफर, द्रविड़ और सचिन ने शतक लगाए थे।

नागपुर टेस्ट टीम इंडिया के बल्लेबाजों के लिए रनों की खान साबित हो रहा है। खेल के तीसरे दिन टीम इंडिया ने श्रीलंकाई गेंदबाजों की बखिया उधेड़ दी। पहले विराट कोहली ने दोहरा शतक जमाया और बाद में रोहित शर्मा ने शतक जड़ दिया। रोहित के शतक के फौरन बाद ही टीम इंडिया ने अपनी पहली पारी 610/6 के स्कोर के साथ घोषित कर दी। इसके साथ ही टीम इंडिया ने श्रीलंका को चौथी पारी में जीतने के लिए 406 रन बनाने का लक्ष्य दिया है।