India Women vs Australia Women: Australia beat India to seal series 2-0
Australia Women team © Getty Images

स्मृति मंदाना से मिली अच्छी शुरूआत के बावजूद भारतीय महिला क्रिकेट टीम को मध्यक्रम की नाकामी के कारण ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में 60 रन से करारी हार का सामना करना पड़ा। भारत ने तीन मैचों की श्रंखला को 2-0 से गंवा दिया है। भारतीय टीम के सामने 288 रन का मुश्किल लक्ष्य था। बायें हाथ की बल्लेबाज मंदाना ने 53 गेंदों पर 12 चौकों और एक छक्के की मदद से 67 रन की तेजतर्रार पारी खेली लेकिन उनके आउट होते ही भारतीय पारी बड़े स्कोर के दबाव में बिखर गयी और आखिर में 49.2 ओवर में 227 रन पर आउट हो गयी।

विश्‍वकप क्‍वालिफायर 2018: पीएनजी को छह विकेट से हराकर वनडे का दर्जा पाने के करीब पहुंचा नेपाल
विश्‍वकप क्‍वालिफायर 2018: पीएनजी को छह विकेट से हराकर वनडे का दर्जा पाने के करीब पहुंचा नेपाल

इससे पहले ऑस्‍ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाजी का न्यौता मिलने पर नौ विकेट पर 287 रन बनाये थे। उसकी तरफ से सलामी बल्लेबाज निकोल बोल्टन (84), एलिस पैरी (नाबाद 70) और बेथ मूनी (56) ने अर्धशतक जमाये। भारत की तरफ से शिखा पांडे ने 61 रन देकर तीन और पूनम यादव ने 52 रन देकर दो विकेट लिये।

पैरी ने आलराउंड खेल का प्रदर्शन किया। उन्होंने 41 रन देकर दो विकेट भी लिये लेकिन भारतीय बल्लेबाजों को लगातार दूसरे मैच में स्पिनरों ने परेशान किया। बायें हाथ की स्पिनर जेस जोनासन ऑस्‍ट्रेलिया की सबसे सफल गेंदबाज रही। उन्होंने 51 रन देकर तीन विकेट लिये। लेग स्पिनर अमांडा वेलिंगटन ने 20 रन देकर दो विकेट हासिल किये।

ऑस्‍ट्रेलिया ने इस तरह से तीन मैचों की श्रृंखला में 2-0 से अजेय बढ़त बना ली है। ये मैच आईसीसी महिला चैंपियनशिप का भी हिस्सा हैं जिसमें ऑस्‍ट्रेलिया दोनों मैच जीतकर दो महत्वपूर्ण अंक जुटाने में सफल रहा। उसके अब पांच मैचों में आठ अंक हैं और वह दूसरे स्थान पर पहुंच गया है जबकि भारत के इतने ही मैचों में चार अंक हैं और वह चौथे स्थान पर है।

मंदाना ने भारत को सकारात्मक शुरूआत दिलायी लेकिन उनकी जोड़ीदार पूनम राउत (61 गेंदों पर 27 रन) ने बेहद धीमी बल्लेबाजी की। आलम यह था कि जब मंदाना ने 41 गेंदों पर अपना अर्धशतक पूरा किया तब पूनम राउत 39 गेंदों पर नौ रन बनाकर खेल रही थी। उनकी धीमी बल्लेबाजी का भारतीयों पर दबाव पड़ा जिसके सामने बड़ा लक्ष्य था।  मंदाना ने अर्धशतक पूरा करने के बाद भी अपने तीखे तेवर जारी रखे लेकिन तेजी से रन बनाने के प्रयास में वह जोनासन की गेंद पर स्लॉग स्वीप करके फाइन लेग पर कैच दे बैठी। इसके बाद भारतीय टीम लड़खड़ा गयी।

राउत आउट होने वाली अगली बल्लेबाज थी जबकि कप्तान मिताली राज (15) और आलराउंडर हरमनप्रीत कौर (17) भी जल्दी पवेलियन लौट गयी। दीप्ति शर्मा (26) ने लंबा शाट खेलकर कैच दिया जबकि वेदा कृष्णमूर्ति (दो) और विकेटकीपर बल्लेबाज सुषमा वर्मा (आठ) दोहरे अंक में भी नहीं पहुंच पायी। भारत की तरफ से दूसरा सबसे बड़ा स्कोर नौवें नंबर की बल्लेबाज पूजा वस्त्राकर (30) ने बनाया जिससे टीम 200 स्कोर के पार पहुंची। निचले क्रम में शिखा पांडे ने 15 और एकता बिष्ट ने आठ रन बनाये।

इससे पहले बोल्टन ने एलिसा हीली (19) के साथ पहले विकेट के लिये 54 और कप्तान मेग लैनिंग (24) के साथ दूसरे विकेट के लिये 66 रन की साझेदारी करके ऑस्‍ट्रेलिया को अच्छी शुरूआत दिलायी।

भारत ने बीच में 14 रन के अंदर तीन विकेट लेकर वापसी की कोशिश की लेकिन पैरी और मूनी ने पांचवें विकेट के लिये 96 रन जोड़कर टीम को मजबूत स्कोर तक पहुंचाया। इन दोनों टीमों के बीच तीसरा और अंतिम एकदिवसीय मैच 18 मार्च को इसी मैदान पर खेला जाएगा।