Indian players and team management was not interested in Sri Lanka series
टीम इंडिया © Getty Images

दक्षिण अफ्रीका दौरे पर आने से तीन दिन पहले ही टीम इंडिया ने श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट, वनडे और टी20 सीरीज खत्म की थी। हालांकि अब खबर सामने आ रही है कि भारतीय टीम श्रीलंका के खिलाफ खेलना नहीं चाहती थी। श्रीलंका दौरे से लौटे भारतीय खिलाड़ियों ने भारतीय क्रिकेट बोर्ड को श्रीलंका के खिलाफ सीरीज का आयोजन करने से मना कर दिया था। दरअसल पहले इस समय पर पाकिस्तान टीम को भारत का दौरा करना था लेकिन अब जबकि दोनों देश एक दूसरे के साथ क्रिकेट नहीं खेल रहे हैं तो बीसीसीआई ने पाकिस्तान की जगह श्रीलंका के खिलाफ सीरीज का आयोजन किया था।

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीसरे टेस्ट से पहले टीम इंडिया ने शार्दुल ठाकुर को जोहान्सबर्ग बुलाया
दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीसरे टेस्ट से पहले टीम इंडिया ने शार्दुल ठाकुर को जोहान्सबर्ग बुलाया

टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी एक खबर के मुताबिक, “भारतीय टीम और टीम मैनेजमेंट ने बीसीसीआई को बताया था कि श्रीलंका के खिलाफ सीरीज को आगे बढ़ाने की जरूरत है या तो तीन टी20 मैचों को रद्द करें या टेस्ट सीरीज़ की जगह छह वनडे मैच आयोजित कराए जाएं तो सर्वश्रेष्ठ रहेगा। ताकि टीम दो हफ्ते पहले फ्री हो सके।” वैसे बीसीसीआई ने खिलाड़ियों को दक्षिण अफ्रीका दौरे के लिए जल्दी रवाना होने का सुझाव दिया था लेकिन खिलाड़ियों को वो भी मंजूर नहीं था। टीम चाहती थी कि सारे खिलाड़ी एक साथ जाएं और इसी वजह से हार्दिक पांड्या को श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट सीरीज से बाहर किया गया था।

अखबार ने भारतीय कैंप के एक सदस्य के हवाले से लिखा, “चेतेश्वर पुजारा या अजिंक्य रहाणे को अकेले भेजने से क्या भला होता? टीम एक साथ रहती है और ये अहम है। जहां तक अभ्यास मैच की बात है, उन्होंने हमें दो अधूरी पिच पर खेलने का प्रस्ताव दिया था। हमने एक खराब मैच खेलने से अपनी प्रैक्टिस करना बेहतर समझा।”