Indian T20 League 2018: Mumbai Coach Mahela Jayawardene impressed with Debutant Mayank Markande bowling
मयंक मार्कडेंय © AFP

वानखेड़े स्‍टेडियम में शनिवार को जब मुंबई की इनिंग 20 ओवरों के बाद 165 पर खत्‍म हुई तो लगा कि कागज पर बेहद मजबूत नजर आ रही चेन्‍नई की टीम मैच को आसानी से जीत लेगी, लेकिन ऐसा हुआ नहीं। ड्वेन ब्रावो की करिश्‍माई 30 गेंदों पर 68 रनों की इनिंग के कारण चेन्‍नई ये मैच जीत गई, लेकिन मुंबई के गेंदबाजों ने पूरे मैच में चेन्‍नई की हालत पतनी करके रखी।

भारतीय टी20 लीग खेलने वाले सबसे युवा खिलाड़ी बने अफगानिस्तान के मुजीब उर रहमान
भारतीय टी20 लीग खेलने वाले सबसे युवा खिलाड़ी बने अफगानिस्तान के मुजीब उर रहमान

चेन्‍नई के कप्‍तान महेंद्र सिंह धोनी मैच के बाद अपने बयान में ये बात कह चुके हैं कि इतनी विकेट गिर जाने के बाद वो जीत की उम्‍मीद छोड़ बैठे थे। वो केवल ये सोच रहे थे कि हार का अंतर कम हो जाए ताकि जब प्‍ले ऑफ में पहुंचने के लिए बाकी टीमों से प्‍वाइंट्स को लेकर टक्‍कर हो तो वो आगे रहें। हालांकि ब्रावो ने मैच के 18वें और 19वें ओवर में 20-20 रन बनकर चेन्‍नई को जीत दिला दी।

चेन्‍नई के खिलाफ मैच से अपने भारतीय टी20 लीग में करियर की शुरूआत कर रहे मयंक मार्कडेंय ने पहले मैच में महेंद्र सिंह धोनी को एलबीडब्‍ल्‍यू आउट किया। 20 साल के मयांक ने 23 रन देकर तीन विकेट लिया। मुंबई के कोच महेला जयवर्धने मयंक मार्कडेंय की बोलिंग के कायल हैं। उन्‍होंने कहा, ” पहले मैच में चेन्‍नई के खिलाफ मयंक ने शानदार गेंदबाजी की। बॉल डालते वक्‍त उसकी सटीकता काबिले तारीफ है। उसकी लेग स्पिन नार्मल स्पिन से थोड़ी अलग है। उसके पास बॉल पर पूरा कंट्राेल रहता है। साथ ही मयंक वेरिएशन के साथ गेंदबाजी करता है।”

महेला जयवर्धने ने कहा, ” मयंक ने ज्‍यादा टी20 मैच नहीं खेले हैं, फिर भी वो मैच खेलते वक्‍त आत्‍मविश्‍वास से भरा नजर आ रहा था। उसका खेल के प्रति रवैया बेहद शानदार है। मेरे ख्‍याल से हमें ऐसे खिलाड़ियों का समर्थन करना ही होगा।” बता दें कि मयंंक विजय हजारे ट्राफी(50 ओवरों) के 10 मैच और सैयद मुश्‍ताक अली ट्राफी(20 ओवरों) के 5 मैंच में कुल 15 विकेट निकाल चुका है।