Indian team will play more than 200 matches in five years FTP
Virat Kohli Getty Images © Getty Images

विश्व क्रिकेट में सबसे ज्यादा कमाई करने वाली भारतीय टीम अगले पांच साल (2018-2023) में विभिन्न प्रारूपों में सबसे ज्यादा 203 अंतरराष्ट्रीय मैच खेलेगी।

भारत का यो-यो टेस्ट स्कोर टॉप टीमों में सबसे कम, पाकिस्तान भी आगे
भारत का यो-यो टेस्ट स्कोर टॉप टीमों में सबसे कम, पाकिस्तान भी आगे

इन पांच वर्षों के फ्यूचर टूर प्रोग्राम (एफटीपी) में भारतीय टीम को 51 टेस्ट मैच , 83 एकदिवसीय और 69 टी 20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने की संभावना है।

भारत के मैचों की संख्या दूसरे स्थान पर काबिज वेस्टइंडीज (186 मैचों) और तीसरे स्थान पर इंग्लैंड (175 मैच) से कही अधिक है।

लोकप्रिय धारणा के विपरीत भारतीय टीम इस दौरान टेस्ट मैच खेलने के मामले में दूसरे स्थान पर है। इस अवधि में इंग्लैंड के 59 टेस्ट खेलने की संभावना है जबकि ऑस्ट्रेलिया 47 टेस्ट मैचों के साथ तीसरे स्थान पर है। एकदिवसीय और टी -20 के मामले में भारत वेस्टइंडीज (75 एकदिवसीय और 68 टी 20) से आगे है।

बीसीसीआई के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि , ‘‘ अब एफटीपी द्विपक्षीय समझौते की तरह है लेकिन कैलेंडर (एफटीपी) निर्माण में आईसीसी ने भी अपना सुझाव दिया हैं। जो लोग ऐसा सोचते हैं कि बीसीसीआई टेस्ट मैचों को नजरअंदाज कर रही है उन्हें राहत की सांस लेनी चाहिए कि हम अगले पांच साल में 50 से ज्यादा टेस्ट मैच खेल रहे है। ’’

भारतीय टीम के मैचों के बोझ (आईपीएल के कारण) को देखते हूए हर साल इसकी संख्या कम होती जाएगी। टीम को 2018-19 सत्र में 54 मैच खेलने हैं जबकि इसके बाद अगले चार सत्र में क्रमश : 41, 33, 40 और 35 मैच खेलने हैं।