इमाम उल-हक © Getty Images
इमाम उल-हक © Getty Images

श्रीलंका के खिलाफ पहले ही वनडे मैच में शतक लगाकर इतिहास रचने वाले इंजमाम-उल-हक के भतीजे इमाम-उल-हक बेहद खुश दिखाई दिए और उन्होंने इसका श्रेय अपने चाचा इंजमाम को दिया। इमाम ने कहा, ‘इंजी चाचा का मेरी जिंदगी पर गहरा प्रभाव है। जब भी मुझे उनकी मदद की जरूरत होती है वो हमेशा मुझे सलाह देते हैं। वो अक्सर मुझसे सकारात्मक रहने के लिए कहते हैं। वो मुझसे बिना डरे खेलने को कहते हैं। हालांकि मेरा मानना है कि जब भी कोई महान खिलाड़ी आपका चाचा होता है तो फिर ये आपके लिए बेहद मुश्किल होता है क्योंकि आपको खुद को भी साबित करना होता है। इसके अलावा मुश्किलें तब और बढ़ जाती हैं जब वो सेलेक्शन कमिटी के अध्यक्ष हों।’

इमाम ने वनडे क्रिकेट का शानदार आगाज किया और श्रीलंका के खिलाफ अपने पहले ही वनडे में बेहतरीन शतक लगाया। इसके साथ ही वो पहले वनडे में शतक लगाने पाकिस्तान के सिर्फ दूसरे और दुनिया के 13वें खिलाड़ी बन गए। कहा जाता है कि जब इमाम छोटे थे तो उनके पापा स्कूल बंक करने में उनकी मदद करते थे और उन्हें क्रिकेट खेलने को कहते थे। हालांकि इमाम की मां हमेशा चाहती थीं कि वो स्कूल जाएं। इमाम ने पहले ही वनडे में शतक लगाकर सबको अपनी प्रतिभा का कायल बना दिया।

बिग बैश लीग में क्रिस लिन पर हुई पैसों की 'बरसात', बन गए 'नंबर-1'
बिग बैश लीग में क्रिस लिन पर हुई पैसों की 'बरसात', बन गए 'नंबर-1'

पहले वनडे में शतक लगाने के बाद इमाम ने कहा, ‘पहले ही मैच में शतक लगाने के बाद मुझे काफी खुशी हो रही है। मुझे खुशी है कि मैंने अपने देश का नाम रौशन किया।’ इमाम के शतक की बदौलत पाकिस्तान ने तीसरे वनडे में भा श्रीलंका को हरा दिया। इस जीत के साथ ही पाकिस्तान की टीम अब 5 मैचों की वनडे सीरीज में 3-0 से आगे हो गई है। पाकिस्तान का इरादा अब चौथे वनडे को जीतकर सीरीज को क्लीन स्वीप करने की तरफ एक और कदम आगे बढ़ाने का होगा।