IPL 2018: CSK have found the formula to work as one team, says Vivian Richards
CSK TEAM © IANS

नौवी बार इंडियन प्रीमियर लीग के प्लेऑफ में पहुंची चेन्नई सुपरकिंग्स आज सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ पहला क्वालिफायर मैच खेलेगी। दो साल बाद टूर्नामेंट में वापसी कर रहे सीएसके के सामने इस सीजन कई चुनौतियां थी लेकिन चेन्नई ने हर मुश्किल को पार कर लगातार अच्छा प्रदर्शन किया। पूर्व वेस्टइंडीज क्रिकेटर विवियन रिचर्ड्स का मानना है कि सीएसके ने बतौर टीम एकसाथ मिलकर खेलने का फॉर्मुला ढूंढ लिया है और यही उनकी सफलता की असली वजह है।

IPL 2018 (क्वालिफायर 1): सनराइजर्स के खिलाफ जीत की हैट्रिक लगाने उतरेगी चेन्नई सुपरकिंग्स
IPL 2018 (क्वालिफायर 1): सनराइजर्स के खिलाफ जीत की हैट्रिक लगाने उतरेगी चेन्नई सुपरकिंग्स

टाइम्स ऑफ इंडिया के लिए लिखे कॉलम में इस महान खिलाड़ी ने कहा, “हर पिछले सीजन की तरह सीएसके ने इस बार भी अपने आप को मजबूत साबित किया और वही किया जो वो हमेशा करते आए हैं। धोनी जैसे कप्तान और तेज तर्रार विकेटकीपर के रहते चेन्नई का अच्छा प्रदर्शन करना तय है। जितना अहम कप्तान है, टीम के खिलाड़ियों ने भी साथ मिलकर उतना ही शानदार प्रदर्शन किया है। चाहे वो लुंगी नगिडी की शानदार गेंदबाजी हो या सुरेश रैना की स्मार्ट बल्लेबाजी। उन्होंने एक टीम की तरह खेलने का फॉर्मुला ढूंढ लिया है।”

इस महान क्रिकेटर की बात बिल्कुल सही है। जहां बाकी आईपीएल टीमें कुछ एक खिलाड़ियों पर निर्भर हैं, वहीं चेन्नई के हर मैच में एक नया मैचविनर सामने आया है। चाहे वो शेन वाटसन हो, अंबाती रायुडू हो या फिर दीपक चाहर या लुंगी नगिडी। हर खिलाड़ी ने टीम की जीत में अपना योगदान दिया है।

विव रिचर्ड्स का कहना है कि आईपीएल का 11वां सीजन काफी खास है। रिचर्ड्स इस सीजन युवा खिलाड़ियों के प्रदर्शन से भी काफी प्रभावित हैं। उन्होंने लिखा, “हमने रिषभ पंत, जिसकी बल्लेबाजी इस सीजन देखने लायक रही है, राशिद खान की शानदार स्पिन गेंदबाजी और मुजीब के घातक स्पेल के साथ श्रेयस गोपाल और कृष्णप्पा गौतम का ऑलराउंड प्रदर्शन देखा है।”

सीजन के विजेता के बारे में बात करते हुए रिचर्ड्स ने लिखा, “आज से क्वालिफायर शुरू हो रहे हैं, जो बाकी मैचों से अलग होंगे। सभी टीमें पहले से ही अपनी लय को जानती हैं, ऐसे में विजेता की भविष्यवाणी करना मुश्किल है। लीग स्टेज आठ टीमों के साथ एक महीने पहले शुरू हुई थी और अब हमारे पास टॉप चार टीमे हैं। सभी चार टीमें पहले खिताब जीत चुकी हैं और वो इसे दोहराना चाहेंगी।”