IPL 2018: CSK players Dwayne Bravo, Ravindra Jadeja express their excitement on winning 3rd title
Chennai Super Kings © AFP

मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में रविवार को खेले गए इंडियन प्रीमियर लीग के 11वें सीजन के फाइनल मैच में चेन्नई सुपरकिंग्स ने शानदार जीत हासिल की। टूर्नामेंट की नंबर एक टीम सनराइजर्स हैदराबाद को लगातार चौथी बार हराकर अपना तीसरा आईपीएल खिताब जीता। मैच के बाद सीएसके के सभी खिलाड़ियों ने जीत का जश्न मनाया। टीम के युवा तेज गेंदबाज दक्षिण अफ्रीका के रहने वाले लुंगी नगिडी का कहना है कि इस जीत का हिस्सा बनाना उनके लिए बड़ी बात है। नगिदी ने मैच के बाद कहा, “बहुत शानदार, पूरा सफर मेरे लिए भावनाओं का रोलर कोस्टर रहा। मैच जीतकर अच्छा लग रहा है। आईपीएल जीतने वाली टीम का हिस्सा बनना मेरे लिए शानदार बात है। कई लोगों को इस शानदार पल का अनुभव नहीं मिलता।”

हरभजन ने फाइनल में ना खिलाए जाने के धोनी के फैसले को सही बताया
हरभजन ने फाइनल में ना खिलाए जाने के धोनी के फैसले को सही बताया

धोनी ने टूर्नामेंट के बीच में टीम से साथ जुड़े लुंगी पर काफी भरोसा जताया और उन्हें आखिरी के मुश्किल ओवरों की जिम्मेदारी सौंपी। इस बारे में लुंगी ने कहा, “कंधों पर डेथ ओवरों में गेंदबाजी की जिम्मेदारी मिलना मेरे लिए शानदार अनुभव था। दबाव की स्थिति में एक गेंद एक बार पर जिम्मेदारी लेना और टीम की जीत में मदद करना मेरे लिए शानदार रहा है।”

चेन्नई सुपरकिंग्स के साथ लंबे समय से जुड़े रविंद्र जडेजा ने कहा, “एक चैंपियन टीम का हिस्सा बनकर अच्छा लग रहा है। हमने मैदान के अंदर और बाहर अच्छा काम किया। हार हो या जीत हम दोनों हालातों में एक टीम की तरह खेलें। हमने दो साल बाद टूर्नामेंट में हिस्सा लिया और मुझे खुशी है कि हम जीत के साथ इसे खत्म कर पाए।”

धोनी के साथ पिछले सीजन राइजिंग पुणे सुपरजायंट और अब चेन्नई सुपरकिंग्स में खेल रहे शार्दुल ठाकुर ने कहा, “ये शानदार है, पिछले साल भी मैं फाइनल में पहुंचा था लेकिन जीत नहीं पाया था लेकिन इस साल हमने जीत लिया और ये अद्भुत है। मैं सातवें आसमां पर हूं। आखिरी मैच में मेरे दिमाग में था कि मुझे डेथ ओवरों में अच्छी गेंदबाजी करनी है। बाकी फॉर्मेट्स की तुलना में आपको इस फॉर्मेट में ज्यादा मार पड़ती है। आज मेरा खेल सर्वश्रेष्ठ था और मैने अपनी योजनाओं को सही से लागू किया।”

 

11वें आईपीएल सीजन में सीएसके के सबसे सफल गेंदबाज रहे दीपक चाहर ने कहा, “मैं नई गेंद के साथ गेंदबाजी करना पसंद करता हूं। मैं अपने मौके का इंतजार कर रहा था और इस साल मुझे मौका मिला। मेरी बल्लेबाजी, गेंदबाजी और फील्डिंग पर भरोसा करने के लिए माही भाई का शुक्रिया। आईपीएल खेलना और जीतना सबका सपना होता है और मेरा ये सपना आज सच हुआ है।” फाइनल मैच में हरभजन सिंह की जगह खेलने वाले कर्ण शर्मा ने बताया कि वो मौके के इंतजार में थे और टीम में आते ही उन्होंने इसका फायदा उठाया।