IPL 2018: Even best like Dwayne Bravo need advice, says MS Dhoni
महेंद्र सिंह धोनी, ड्वेन ब्रावो © IANS

चेन्नई सुपर किंग्स ने रविवार को सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ मैच में 4 रनों से रोमांचक जीत हासिल की। मैच के आखिरी ओवर में हैदराबाद को जीत के लिए 19 रन चाहिए थे। ड्वेन ब्रावो के 20वें ओवर में छक्का और चौका लगाकर राशिद खान ने चेन्नई फैंस की धड़कने बढ़ा दी थी। आखिरी गेंद से पहले कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने ब्रावो से बात की और फिर गेंदबाज ने सटीक यॉर्कर डाल अपनी टीम को जीत दिलाई। मैच के बाद जब धोनी से पूछा गया कि उन्होने ब्रावो से क्या कहा तो उन्होंने बताने से मना कर दिया।

धोनी ने कहा, “मैं ये नहीं बताऊंगा कि हमने क्या बात की, मैं उसकी योजना बदलना चाहता था। समय समय पर ब्रावो जैसे सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी को भी सलाह की जरूरत होती है।” इंडियन प्रीमियर लीग में चेन्नई टीम ने कई बार इस तरह आखिरी ओवर में जीत हासिल की है। हालांकि सीएसके के कप्तान का कहना है कि अभी इस तरह की चीजें की जा सकती हैं और इससे खिलाड़ी और बेहतर बनेंगे। धोनी ने कहा, “ये जरूरी है कि हम गलतियां करें और सीखें। लीग स्टेज में आप गलती कर सकते हो। अभी हम जहां पर हैं, वहां एक-दो गलतियां ज्यादा तकलीफ नहीं देंगी। गेंदबाजों को इससे सीखने को मिलेगा। विकेट बेहतर हो गए हैं। अगर आप इस सीजन की तुलना पहले से आईपीएल सीजन से करेंगे, ये विकेट बल्लेबाजी के लिए काफी अच्छे हैं।”

IPL 2018: सनराइजर्स हैदराबाद-चेन्नई सुपर किंग्स मैच में नो बॉल का फैसला ना देने के बाद अंपायर पर भड़के फैंस
IPL 2018: सनराइजर्स हैदराबाद-चेन्नई सुपर किंग्स मैच में नो बॉल का फैसला ना देने के बाद अंपायर पर भड़के फैंस

चेन्नई टीम की सबसे बड़ी ताकत है कि उनकी बल्लेबाजी किसी एक खिलाड़ी पर निर्भर नहीं है। हर मैच में एक नए खिलाड़ी ने आगे आकर बड़ी पारी खेली। कप्तान ने इसके लिए बल्लेबाजों की तारीफ की और कहा, “बल्लेबाजों को श्रेय देना चाहिए, वो और मजबूत हो रहे हैं। वो गेंदबाजों के खिलाफ योजना बना रहे हैं। जैसे हम नॉकआउट स्टेज में पहुंचेंगे तब गेंदबाज नई योजना बनाएंगे और तब उनके खिलाफ रन बनाना आसान नहीं होगा। जरूरी ये है कि हम युवा गेंदबाजों को ज्यादा से ज्यादा मौके दें। दीपक गेंद को अच्छा स्विंग कराता है और उसके रहने से निचले क्रम की बल्लेबाजी में संतुलन आता है। शार्दुल के कुछ मैच खराब रहे, उसकी आखिरी अंतर्राष्ट्रीय सीरीज अच्छी नहीं रही थी।”

हैदराबाद के खिलाफ मैच में चेन्नई की तरफ से अंबाती रायुडू ने शानदार बल्लेबाजी की। धोनी ने रायुडू की तारीफ करते हुए कहा, “रायुडू शानदार रहा। उसे कहां खिलाना है ये सोचना था। उसके लिए टीम में जगह बनाना जरूरी था क्योंकि मैं उसे बड़े स्तर का खिलाड़ी मानता हूं। मैने उसे ऊपरी क्रम में बल्लेबाजी करते देखा है, वो आत्मविश्वास से खेलता है। जब भी वो बड़े शॉट खेलता है वो जगह बनाकर खेलता है। वो ऐसा खिलाड़ी है जो कहीं पर भी खेल सकता है लेकिन मैं उससे सलामी बल्लेबाजी कराना पसंद करता हूं।”