IPL 2018: Faf Du Plessis’s brilliant innings shows why experience counts, says MS Dhoni
Faf du Plessis © PTI

सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ पहले क्वालिफायर मैच में 2 विकेट से रोमांचक जीत हासिल कर चेन्नई सुपरकिंग्स इंडियन प्रीमियर लीग के 11वें सीजन के फाइनल में पहुंचने वाली पहली टीम बन गई है। मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेले इस मैच में 140 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए चेन्नई सुपरकिंग्स ने 62 पर 6 विकेट खो चुकी थी लेकिन फॉफ ड्यु प्लेसी ने 67 रनों की शानदार पारी खेलकर सीएसके को जीत दिलाई।

दबाव की स्थिति में काम आता है अनुभव

मैच के बाद ड्यु प्लेसी की पारी के बारे में बात करते हुए कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने कहा, “ऐसे ही मौकों पर अनुभव काम आता है। आईपीएल में मैच पलटना आसान नहीं होता। मेरा मानना है कि आपको शरीर से ज्यादा दिमाग को ट्रेन करना होता है। इंजरी तो कभी भी हो सकती है। यहीं पर अनुभव मायने रखता है। उसने शानदार बल्ललेबाजी की। उम्मीद है कि वो फाइनल में भी इस प्रदर्शन को बरकरार रख पाएगा।”

IPL 2018: घरेलू मैदान पर राजस्थान रॉयल्स को 'एलिमिनेट' करने उतरेगी कोलकाता नाइटराइडर्स
IPL 2018: घरेलू मैदान पर राजस्थान रॉयल्स को 'एलिमिनेट' करने उतरेगी कोलकाता नाइटराइडर्स

टीम के लगातार अच्छे प्रदर्शन के पीछे अच्छा ड्रेसिंग रूम माहौल

धोनी की कप्तानी में चेन्नई सुपरकिंग्स सातवीं बार आईपीएल फाइनल में पहुंची है। धोनी इसका श्रेय पूरी टीम और सपोर्ट स्टाफ को देते हैं। उन्होंने कहा, “हम हमेशा से एक अच्छी टीम रहे हैं और ये आईपीएल में झलकता है। ये उस ड्रेसिंग रूम माहौल को दर्शाता है जो हमने तैयार किया है। उसके बिना ये मुमकिन नहीं होता। इसका श्रेय मैनेजमेंट, सपोर्ट स्टाफ और खिलाड़ियों को जाता है। अगर उनसे में से कोई एक भी निराश होता तो हम अच्छा ड्रेसिंग रूम माहौल नहीं तैयार कर पाते। अगर माहौल अच्छा नहीं होता तो अच्छा प्रदर्शन करना मुश्किल हो जाता। किसी तरह हमने खिलाड़ियों को टीम के लिए अच्छा सोचने के लिए तैयार किया है।”

भुवनेश्वर-राशिद ने अच्छी गेंदबाजी की

धोनी ने सनराइजर्स हैदराबाद के गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार और राशिद खान की भी जमकर तारीफ की। कैप्टन कूल ने कहा, “जब भी हम मैच जीतते हैं, मुझे खुशी होती है। प्रक्रिया ज्यादा जरूरी है। टॉप दो टीमों में होने से आपको एक और मैच खेलने की छूट मिलती है। अगर हम ये मैच हार जाते को हमारे पास दूसरा मौका होता। उन्होंने बेहद शानदार गेंदबाजी की। पिच पर तेज गेंदबाजों के लिए शुरुआत में कुछ मदद थी। भुवी ने अच्छी गेंदबाजी की और राशिद ने भी उसका अच्छा साथ दिया। हमने लगातार विकेट खोए, उस वजह से हमे लगातार रन बनाने के लिए जाना पड़ा। हमने बीच के ओवरो में 3-4 विकेट खोए और उससे दबाव आ गया। जाहिर है कि उनके पास रहस्यमयी गेंदबाज हैं, ऐसा मैच जीतकर अच्छा लगता है लेकिन जरूरी है कि हम इससे कुछ सीखें।”

डेथ ओवर गेंदबाजी

टूर्नामेंट की शुरुआत से सीएसके डेथ ओवर में गेंदबाजी को लेकर संघर्ष कर रही है। धोनी ने शार्दुल ठाकुर से लेकर ड्वेन ब्रावो सभी को आखिरी के ओवरों में इस्तेमाल कर लिया है। हालांकि धोनी इसे लेकर परेशान नहीं हैं। उन्होंने कहा, “ये हमारा सर्वश्रेष्ठ टीम कॉम्बिनेशन है और पहले मैच से ही हमने कई गेंदबाजों को मौका दिया है ताकि पता चले कि कौन हमारा डेथ ओवर गेंदबाज है। ये जानने के लिए कि कौन आपने लिए सबसे अच्छा प्रदर्शन कर सकता है, आपको लगातार बदलाव करना पड़ता है। एक समय पर उन्हें सफलता जरूर मिलेगी। ये हमारे गेंदबाज हैं जो ये मैच खेल रहे हैं। उन्हें फाइनल में प्रदर्शन करना ही होगा।” आईपीएल 11 का फाइनल मैच 27 मई को वानखेड़े पर ही खेला जाएगा।