IPL 2018 : MS Dhoni sets new stumping record, goes past Robin Uthappa
ms dhoni © IANS

चेन्‍नई सुपर किंग्‍स को रिकॉर्ड 7 वीं बार फाइनल में पहुंचाने में अहम रोल निभाने वाले कपतान महेंद्र सिंह धोनी ने रविवार को इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल)-11 के खिताबी मुकाबले में एक खास उपलब्धि हासिल कर ली। धोनी ने यह उपलब्धि बल्‍ले से नहीं बल्कि विकेट के पीछे बतौर विकेटकीपर की भूमिका निभाते हुए हासिल की।

आज IPL के फाइनल में छठी बार देखने को मिलेगा यह अद्भुत संयोग
आज IPL के फाइनल में छठी बार देखने को मिलेगा यह अद्भुत संयोग

मुंबई के वानखेड़े स्‍टेडियम में जारी सनराइजर्स हैदराबाद और चेन्‍नई सुपर किंग्‍स के बीच खिताबी मुकाबले में धोनी ने विपक्षी टीम के कप्‍तान केन विलियमसन को स्‍टंप आउट किया। वह आईपीएल इतिहास में सबसे अधिक स्‍टंपिंग करने वाले विकेटकीपर बन गए हैं। उन्‍होंने इस दौरान रॉबिन उथप्‍पा का रिकॉर्ड तोड़ा जिनके नाम 32 स्‍टंपिंग दर्ज थे। धोनी के नाम आईपीएल में अब 33 स्‍टंपिंग हो गए हैं।

धोनी ने स्पिनर कर्ण शर्मा की गेदं पर केन विलियमसन को 47 रन के निजी योग पर स्‍टंप आउट किया। महेंद्र सिंह धोनी ने फाइनल मुकाबले में टॉस जीतकर सनराइजर्स हैदराबाद को पहले बल्‍लेबाजी के लिए उतारा। हैदराबाद ने पहले बल्‍लेबाजी करते हुए 6 विकेट पर 178 रन बनाए। धोनी को तीसरी बार आईपीएल खिताब जीतने के लिए 20 ओवरों में 179 रन की जरूरत है।

ओवरऑल विकेट के पीछे शिकार करने की लिस्‍ट में धोनी (166) दूसरे नंबर पर हैं जबकि उनसे आगे दिनेश कार्तिक हैं जिनके नाम कुल 124 शिकार दर्ज है।