IPL 2018, Sunrisers Hyderabad vs Chennai Super Kings: Angry fans react over no-ball controversy
चेन्नई सुपर किंग्स ने सनराइजर्स को 4 रनों से हराया © AFP

चेन्नई सुपर किंग्स और सनराइजर्स हैदराबाद  के बीच खेला गया इंडियन प्रीमियर लीग का 20वां मैच बेहद रोमांचक रहा। आखिरी गेंद तक चले इस मैच में सीएसके ने 4 रनों से करीबी जीत दर्ज की। आखिरी ओवर में जीत के लिए 19 रनों की जरूरत थी और कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने अपने सबसे भरोसेमंद गेंदबाज ड्वेन ब्रावो को गेंद थमाई। ओवर की चौथी और पांचवीं गेंद पर एक छक्का और चौका लगाकर राशिद खान ने हैदराबाद के प्रशंसकों की उम्मीद जगाई लेकिन ब्रावो ने बिना दबाव में आए आखिरी गेंद सटीक यॉर्कर डाली और चेन्नई को जीत दिलाई।

IPL 2018: कृष्णप्पा गौतम ने छक्‍का मारकर राजस्‍थान को दिलाई तीन विकेट से जीत
IPL 2018: कृष्णप्पा गौतम ने छक्‍का मारकर राजस्‍थान को दिलाई तीन विकेट से जीत

हैदराबाद को मिली इस करीबी हार के बाद सोशल मीडिया पर अंपायर के उस फैसले की चर्चा होने लगी, जिसमें उन्होंने शार्दुल ठाकुर की गेंद को नो बॉल करार नहीं दिया था। 17वें ओवर में ठाकुर की दूसरी गेंद अर्धशतक बनाकर खेल रहे केन विलियमसन की कमर के ऊपर से गई लेकिन अंपायर ने इसे नो बॉल करार नहीं दिया। हैदराबाद के कप्तान विलियमसन इस फैसले से काफी हैरान दिखे। हालांकि उन्होंने विवाद को आगे नहीं बढ़ाया और बल्लेबाजी करते रहे। अगले ओवर में ब्रावो ने विलियसमन को आउट कर दिया और हैदराबाद 4 रन के मामूली अंतर से मैच हार गई। जिसके बाद फैंस ने सोशल मीडिया के जरिए अंपायर के फैसला पर अपना गुस्सा जाहिर किया।

 

फैंस का कहना है कि अगर अंपयार उस गेंद को नो बॉल करार देते तो हैदराबाद को अतिरिक्त रन के साथ फ्री हिट भी मिलती और शायद वो मैच जीत जाते। फैंस के साथ कई पूर्व क्रिकेटरों और कमेंटेटरों ने भी इस फैसले पर सवाल उठाए। चेन्नई के खिलाफ इस मैच में हारने के बाद हैदराबाद टीम अंकतालिका में चौथे नंबर पर आ गई है।