IPL 2018: Watch KKR skipper Dinesh karthik’s close run out vs MI
Dinesh Karthk © AFP

आईपीएल 2018 के 42वें मुकाबले में मुंबई इंडियंस ने मेजबान कोलकाता नाइट राइडर्स को बुधवार को 102 रनों से करारी मात दी। मुंबई की टीम ने इस मैच में कोलकाता को जीत के लिए 211 रनों का लक्ष्‍य दिया। जवाब में पूरी टीम महज 108 रन ही बना पाई। मुंबई के गेंदबाजों ने कोलकाता को ऑल आउट कर दिया। मैच के हीरो युवा बल्‍लेबाज ईशान किशन रहे। इशान ने महज 17 गेंदों पर ही अपना अर्धशतक पूरा किया। मुंबई इंडियंस के इतिहास का ये संयुक्‍त रूप से सबसे तेज अर्धशतक है। इससे पहले किरोन पोलार्ड भी मुंबई के लिए ऐसा कर चुके हैं।

इस मैच के दौरान एक ऐसा वाक्‍या भी हुए जिसका निपटारा करते करते खुद थर्ड अंपायर भी सोच में पड़ गए। काफी समय तक सोच विचार करने और बार-बार घटना का रिप्‍ले देखने के बाद उन्‍होंने इसपर निर्णय लिया। दरअसल, कोलकाता की बल्‍लेबाजी चल रही थी। 211 रनों के लक्ष्‍य का पीछा करने के दौरान कोलकाता पहले ही अपने चार विकेट खो चुका था। मैदान पर नितीश राणा और कप्‍तान दिनेश कार्तिक मौजूद थे। मुंबई के कप्‍तान रोहित शर्मा ने नौवा ओवर हार्दिक पांड्या को डालने के लिए दिया। नितीश राणा ने प्‍वाइंट की दिशा में डिफेंस किया। वहां जेपी ड्युमिनी मौजूद थे, जिसके कारण नितीश रन लेना नहीं चाहते थे। इस गेंद पर दिनेश कार्तिक आधी क्रीज पर आ चुके थे। नितीश के मना करने के बाद उन्‍हें वापस लौटना पड़ा।

विकेट पर गेंद लगी या हाथ

ड्युमिनी की गेंद तुरंत हार्दिक पांड्या ने पकड़ ली। इससे पहले की वो गेंद को विकेट से टच कर पाते, गेंद उनके हाथ से छूटने लगी। मैदान पर मौजूद अंपायर के लिए ये कंफ्यूजन पैदा हो गया कि गेंद विकेट पर लगी है या फिर सिर्फ हार्दिक पांड्या का हाथ विकेट को लगा है। उन्‍होंने कंफ्यूजन दूर करने के लिए थर्ड अंपायर की मदद ली। टीवी अंपायर भी बार-बार रिप्‍ले देखने लगे। गेंद के हार्दिक पांड्या के हाथ से निकलकर जाने और विकेट पर उनका हाथ लगने के बीच समय इतना कम था कि ये स्‍पष्‍ट नहीं हो पा रहा था कि आखिरी विकेट पर हाथ लगते वक्‍त गेंद का कुछ हिस्‍सा उनके हाथ को छू रहा था या नहीं। काफी सोच विचार के बाद तीसरे अंपायर ने दिनेश कार्तिक को आउट दिया।