IPL system is archaic and deeply humiliating for the players, says Heath Mills
आईपीएल नीलामी © Getty Images

भारत और दुनिया की सबसे मशहूर टी20 क्रिकेट लीग से एक इंडियन प्रीमियर लीग को युवा खिलाड़ियों को राष्ट्रीय टीम तक पहुंचाने का पूरा श्रेय जाता है। आईपीएल ने कई अनजान क्रिकेटरों को रातोंरात स्टार बनाया है हालांकि न्यूजीलैंड क्रिकेट प्लेयर्स एसोसिएशन के प्रमुख हीथ मिल्स का कुछ और ही मानना है। मिल्स ने कहा है कि आईपीएल का पूरा सिस्टम खिलाड़ियों के लिए काफी अपमानजनक है। मशहूर अंग्रेजी अखबार हेराल्ड से बातचीत में मिल्स ने कहा, “मुझे लगता है कि ये पूरा सिस्मट काफी पुराना है और खिलाड़ियों के लिए काफी अपमानजनक है, जिन्हें सबसे सामने जानवरों की तरह दिखाया जाता है।”

हालांकि मिल्स ने क्रिकेट को बढ़ावा देने के लिए आईपीएल की तारीफ की लेकिन उनका मानना है कि इस लीग में खिलाड़ियों के साथ जिस तरह का व्यवहार होता है वो निराशाजनक है। उन्होंने कहा, “इंडियन प्रीमियर लीग में कई अच्छी चीजें हैं और क्रिकेट के लिए ये कमाल है लेकिन मैं ये चाहूंगा कि ये लोग देखें कि बाकी पेशवर खेलों में खिलाड़ियों को किस तरह शामिल किया जात है। नीलामी गलत है, ये पेशेवर नहीं है और इससे बहुत दूर है। ना चुने जाने वाले खिलाड़ियों को सबसे सामने निराश होना पड़ता, वहीं जिन खिलाड़ियों को खरीदा जाता है उनके साथ भी अच्छा व्यवहार नहीं होता।”

2019 विश्व कप हमारे दिमाग में है: रोहित शर्मा
2019 विश्व कप हमारे दिमाग में है: रोहित शर्मा

मिल्स ने आगे कहा, “खिलाड़ी नीलामी में आते हैं, बिना ये जाने की वो कहां जाएंगे, कौन उनके साथी खिलाड़ी होंगे, कौन उन्हें संभालेंगा, कौन मालिक होंगे। दुनिया की किसी और स्पोर्ट्स लीग में ऐसा नहीं होता है। हमने देखा कि कई खिलाड़ियों में पिछले 10 सालों में 5-6 टीमों के लिए खेला है। इस तरह से कोच लंबे समय के लिए एक टीम तैयार नहीं कर सकते हैं। ये पूरी प्रक्रिया काफी गलत है और पूरी दुनिया से इस लीग में हिस्सा लेने वाले खिलाड़ी इसे बदलता देखना चाहेंगे।”

मिल्स अकेले नहीं हैं, वैलिंगटन क्रिकेट के पूर्व प्रमुख पीटर क्लिंटन ने भी ट्विटर पर कुछ इसी तरह की प्रतिक्रिया दी है। क्लिंटन ने ट्वीट किया, “आईपीएल नीलामी एक अपनामजनक, क्रूर और गैर जरूरी प्रक्रिया है। ये हंसने वाली बात है कि आज के जमाने में इस तरह की चीज होती है।”