Ishan Kishan: I’d like to work on my consistency to come back stronger
ISHAN KISHAN © AFP

इंडियन प्रीमियर लीग के 11वें सीजन में 275 रन बनाने वाले मुंबई इंडियंस के विकेटकीपर बल्लेबाज ईशान किशन का मानना है कि अपने खेल को बेहतर बनाने के लिए उन्हें अपने मिड ऑफ और कवर्स शॉट पर काम करने की जरूरत है। फर्स्टपोस्ट को दिए इंटरव्यू में झारखंड के इस युवा खिलाड़ी ने कहा, “बाकी बाएं हाथ के बल्लेबाजों की ही तरह मैं भी लेग साइड की तरफ ज्यादा ही खेलता हूं लेकिन मैं मिड ऑफ और कवर्स की तरफ खेले शॉट और अपने कट शॉट्स को बेहतर बनाना चाहता हूं। मैं अपनी निरंतरता पर काम कर अगले सीजन और मजबूती से वापसी करूंगा।”

'जैसे ही मैं फॉर्म में आ रहा था आईपीएल ही खत्म हो गया'
'जैसे ही मैं फॉर्म में आ रहा था आईपीएल ही खत्म हो गया'

ईशान पिछले सीजन गुजरात लायंस टीम में सुरेश रैना की कप्तानी में खेले थे और इस सीजन उन्हें रोहित शर्मा की अगुवाई में खेलने का मौका मिला। साथ ही टूर्नामेंट के दौरान उन्हें महेंद्र सिंह धोनी जैसे अनुभवी खिलाड़ी से बात करने का मौका भी मिला। सीनियर क्रिकेटरों से मिलने वाली मदद के बारे में बात करते हुए ईशान ने कहा, “पिछले साल मैने रैना भाई से बात की थी तो उन्होंने मुझे मेरे खेल के बारे में कई बातें बताई थी। मैने धोनी भाई से भी बात की थी, जिन्होंने मुझे खेल को समझने और उस हिसाब से ही खेलने की सलाह दी। साथ ही पिछले साल के मुकाबले इस सीजन खेल के प्रति मेरी समझ भी बेहतर हुई है। अब मैं हालात देखकर खेलता हूं। अगर गेंद हिट लगाने वाली है और टाइमिंग भी अच्छी है तो मैं शॉट खेलने जाता हूं लेकिन आमतौर पर मैं टीम की जरूरत के हिसाब से खेलता हूं।”

मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा ने इस सीजन ईशान को तीसरे नंबर पर ही बल्लेबाजी कराई है। इस युवा खिलाड़ी का कहना है कि इस आईपीएल से उन्होंने हर नंबर पर बल्लेबाजी करने का सबक सीखा है। ईशान ने कहा, “निजी तौर पर मैं ऊपरी क्रम में खेलना पसंद करता हूं क्योंकि वहां आपको मैच बनाने का मौका मिलता है। हालांति मैने सीखा है कि अगर आप आईपीएल जैसे टूर्नामेंट में हैं तो आपको हमेशा अपने मन का नंबर नहीं मिलेगा। आपको अपनी टीम के लिए हर नंबर पर खेलने के लिए तैयार रहना होगा।”