Joe Root says exciting that we won despite being not at our best
joe-root © Getty Images

इंग्लैंड के कप्तान जो रूट का कहना है कि पहले टेस्ट मैच में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन नहीं करने के बावजूद जीत करने से भारत के खिलाफ लॉडर्स में शुरू होने वाले दूसरे टेस्ट मैच से पहले उनकी टीम का मनोबल बढ़ा है।

बैन के बाद श्रीलंकाई टीम में लौटे दिनेश चांदीमल, टी-20 टीम में शामिल
बैन के बाद श्रीलंकाई टीम में लौटे दिनेश चांदीमल, टी-20 टीम में शामिल

रूट ने मैच की पूर्व संध्या पर पत्रकारों से कहा, ‘ इससे (बर्मिंघम की जीत से) हमारा काफी मनोबल बढ़ा है। पिछले सप्ताह की सबसे रोचक बात यह रही कि हमने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन नहीं किया, कुछ क्षेत्र हैं जिनमें हम सुधार कर सकते हैं, लेकिन हमने दबाव में जीत हासिल करने का तरीका निकाला और मैच को अपने पक्ष में मोड़ा।’

मेजबान इंग्लैंड ने पिछले सप्ताह एजबेस्टन में भारत को 31 रन से हराकर पांच मैचों की सीरीज में 1-0 से बढ़त बनाई।

उन्होंने कहा, ‘इससे हमारी टीम के जज्बे का पता चलता है। हाल में कुछ विपरीत परिणाम हासिल करने के बाद इस तरह की जीत दर्ज करना हमारे लिये अच्छा संकेत है।’

रूट ने कहा, ‘ अगर हम कुछ क्षेत्रों में छोटे छोटे सुधार कर सकते हैं और पिछले सप्ताह हमने जहां अच्छा प्रदर्शन किया उसमें इसे जोड़ सकते हैं तो हम पिछले सप्ताह की तुलना में सुधार देखेंगे।’

इंग्लैंड ने लॉडर्स पर पिछले नौ टेस्ट मैचों में से केवल तीन में जीत दर्ज की है।

रूट ने कहा, ‘जब भी यहां खेलने के लिए उतरते हो तो पिच भिन्न हो सकती है। गर्मियों के शुरू में हमारा प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा लेकिन दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ इसमें काफी स्पिन थी जबकि भारत के खिलाफ (2014) में दूसरी पारी में विकेट ने स्पिनरों को मदद पहुंचाई थी। यह बड़ा कारक हो सकता है।’