Jos Buttler: I enjoyed captaincy in second ODI vs Australia
Jos Buttler (File Photo) © Getty Images

ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ इंग्‍लैंड पहले दो मुकाबलों में जीत दर्ज कर पांच मैचों की सीरीज में मजबूत पकड़ बना चुका है। दूसरा मुकाबला कार्डिफ में खेला गया जहां इंग्‍लैंड ने 50 ओवरों में जीत के लिए ऑस्‍ट्रेलिया को 343 का लक्ष्‍य दिया। जवाब में मेहमान टीम 304 रन पर ऑलआउट हो गई। कप्‍तान इयोन मॉर्गन इस मैच में नहीं खेले, जिसके कारण जॉस बटलर ने इंग्‍लैंड की कमान संभाली।

मुंबई रणजी टीम का कोच बनाना चाहता है ये पूर्व भारतीय गेंदबाज
मुंबई रणजी टीम का कोच बनाना चाहता है ये पूर्व भारतीय गेंदबाज

करीब दो साल बाद एक बार फिर इंग्‍लैंड के विकेटकीपर बल्‍लेबाज जॉस बटलर को टीम की कप्‍तानी करने का मौका मिला। इससे पहले साल 2016 में उन्‍होंने बांग्‍लादेश के खिलाफ वनडे सीरीज में टीम की कप्‍तानी की थी। इस मैच में बटलर ने शानदार कप्‍तानी पारी खेलते हुए नाबाद 70 गेंद पर 91 रन बनाए। बटलर ने कहा, ” मैने कप्‍तानी को काफी इंज्‍वाय किया। उपकप्‍तान होने पर आप केवल सलाह देते हैं। कप्‍तान के पास काफी जिम्‍मेदारी होती है। दुनिया की टॉप वनडे टीम की कप्‍तानी का बोझ मुझपर ज्‍यादा नहीं रहा क्‍योंकि मेरे साथ अच्‍छे सीनियर खिलाड़ी टीम में मौजूद थे। सभी को पता था कि उन्‍हें क्‍या करना है।”

बटलर ने कहा, ” ये आम धारणा है कि विकेटकीपर को काफी एकाग्रता की जरूरत होती है। ऑस्‍ट्रेलिया के कप्‍तान टिम पेन भी विकेटकीपर हैं। मुझे ऐसा नहीं लगा कि विकेटकीपर होते हुए कप्‍तानी करना मुश्किल काम है।” बटलर ने राजस्‍थान रॉयल्‍स की तरफ से खेलते हुए लगातार पांच मैचों में अर्धशतक जमाया था। जिसके आधार पर उन्‍हें पाकिस्‍तान के खिलाफ दो मैचों की टेस्‍ट सीरीज में जगह दी गई। वो लंबे समय से टेस्‍ट टीम से बाहर चल रहे थे।