Kagiso Rabada again charged for breaching code of conduct during Port Elizabeth Test
कगीसो रबाडा © Getty Images

ऑस्ट्रेलिया टीम के कप्तान स्टीवन स्मिथ को धक्का देने के बाद आईसीसी कोड ऑफ कंडक्ट तोड़ने के आरोप में फंसे दक्षिण अफ्रीकी तेज गेंदबाज कगीसो रबाडा एक बार फिर मैदान पर अनुशासन तोड़ने के दोषी पाए गए हैं। पोर्ट एलिजाबेथ टेस्ट के दौरान विपक्षी टीम के उप कप्तान डेविड वॉर्नर को आउट करने के बाद उन्हें सेंड ऑफ देने के बाद आईसीसी ने रबाडा पर एक बार फिर कोड ऑफ कंडक्ट तोड़ने के आरोप लगाया है। गौरतलब है कि मैच रेफरी जेफ क्रो स्मिथ के मामले में रबाडा के खिलाफ आज फैसला सुनाएंगे। वहीं वॉर्नर के साथ इस नए मामले के खिलाफ रबाडा ने अभी तक कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है।

निदास ट्रॉफी 2018, चौथा टी20(प्रिव्यू): श्रीलंका से हार का बदला लेने उतरेगा भारत
निदास ट्रॉफी 2018, चौथा टी20(प्रिव्यू): श्रीलंका से हार का बदला लेने उतरेगा भारत

दक्षिण अफ्रीका टीम के एक प्रवक्ता ने कहा है कि रविवार को जब रबाडा मैच रेफरी से स्मिथ मामले के बारे में चर्चा करने के लिए मिले थे। इस दौरान नए आरोप को लेकर कोई बातचीत नहीं हुई थी। स्मिथ को कंधा मारने के मामले में रबाडा पर लेवल दो का आरोप लगा है। इसके तहत उन्हें तीन या चार डी मेरिट प्वाइंट्स दिए जा सकते हैं। रबाडा के पास पहले से ही पांच डी मेरिट प्वाइंट्स हैं और अब इस नए आरोप के बाद उन पर दो टेस्ट मैच का बैन लगना तय माना जा रहा है।

रबाडा ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज में दक्षिण अफ्रीका के सबसे अहम गेंदबाज हैं। ऐसे में उन पर लगने वाला बैन पूरी टीम को प्रभावित करेगा। फिलहाल मेजबान टीम को मैच रेफरी क्रो के फैसले का इंतजार है।