KL Rahul: My Father supports me in my decisions
KL Rahul (File Photo) © Getty Images

भारतीय टीम के बल्लेबाज केएल राहुल का कहना है कि वह आज जो कुछ भी हैं वो अपने माता-पिता द्वारा दी गई सीख और संस्कारों के कारण हैं, जिन्होंने हमेशा उन्हें एक अच्छा इंसान बनने के लिए प्रेरित किया। राहुल का कहना है कि उनके पिता उनसे कहते थे कि जीवन में चाहे जो भी करो, सबसे पहले एक अच्छा इंसान जरूर बनो। राहुल ने ऑनलाइन मैग्‍जीन ‘मैन्स एक्सपी’ को दिए इंटरव्‍यू में क्रिकेट से इतर अपनी निजी जिंदगी के बारे में बात की।

अश्विन की फिरकी के जाल में फंसे अंग्रेज, पहले दिन इंग्‍लैंड 285/9
अश्विन की फिरकी के जाल में फंसे अंग्रेज, पहले दिन इंग्‍लैंड 285/9

राहुल ने अपने परिवार के बारे में कहा, “मेरे दादा-दादी उस समय के थे, जब जिंदगी काफी आसान और सरल होती थी। मेरे दादाजी एक साधारण इंसान थे। वह पारिवारिक इंसान थे। यह उनकी पीढ़ी के हिसाब से था। उनकी ज्यादा बड़ी ख्वाहिशें नहीं थीं। वह काफी मेहनत करते थे। अपने बच्चों के लिए उन्होंने अपने सपने न्यौछावर कर दिए थे।”

काफी कड़क हैं मेरा पिता

राहुल ने अपने पिता के बारे में बताया, “जब हम लोग बड़े हो रहे थे तब मेरे पिता काफी अनुशास्तमक और कड़क मिजाज के थे, लेकिन उन्होंने मुझे हमेशा एक पेशेवर क्रिकेट खिलाड़ी बनने और भारत के लिए खेलने के लिए प्रेरित किया। वह खुद कॉलेज में क्रिकेट खेले थे। वह भी खेल को लेकर जुनूनी थे। एक एकेडमियन होने के बाद भी उन्होंने मुझे क्रिकेट खेलने के लिए समर्थन दिया।”

पिता ने दिया करियर में पूरा साथ

राहुल ने कहा कि उनके माता-पिता ने उनको अपनी जिंदगी के फैसले लेने की खुली छूट दी और एक अच्छा इंसान बनने की सीख दी। बकौल राहुल, “मेरे पिता मेरे दादाजी के जैसे थे, लेकिन बड़ा अंतर यह था कि मेरे पिता ने मुझे और मेरी बहनों को अपने हिसाब से जिंदगी जीने की छूट दी थी। ऐसा नहीं है कि मेरे दादाजी ने नहीं दी थी, लेकिन उस समय बड़े लोग ही अपने बच्चों की जिंदगी के अहम फैसले लिया करते थे।

पिता ने दी अच्‍छा इंसान बनने की सीख

केएल राहुल ने कहा, ”मेरे पिता ने हमेशा मुझे सिखाया कि जिंदगी में कुछ भी करो, लेकिन एक अच्छा इंसान बनो। यह बात उन्होंने हमें बचपन से सिखाई।  ”मेरे माता-पिता ने हर किसी चीज से पहले एक अच्छा बनने की सीख दी और यही मेरे जिंदगी का आधार था, लेकिन साथ ही मैंने अपने जिंदगी के अनुभवों से भी काफी कुछ सीखा।” राहुल इस समय भारती टीम के साथ इंग्लैंड दौरे पर हैं और एजबेस्टन में खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच में टीम का हिस्सा हैं।