KL Rahul says It was important for me to make the most of my opportunities that I get
KL Rahul © IANS

आयरलैंड के खिलाफ पहले टी-20 मैच में ओपनर लोकेश राहुल को प्‍लेइंग इलेवन में जगह नहीं मिली थी। सीरीज के दूसरे और अंतिम टी-20 में कप्‍तान विराट ने इस युवा ओपनर को टीम में शामिल किया और राहुल ने अपनी विस्‍फोटक बल्‍लेबाजी से ये दिखा दिया कि उन्‍हें बाहर रखना आसान नहीं है।

आयरलैंड के खिलाफ दूसरे टी-20 में इतने छक्‍के लगाए की बन गया ये रिकॉर्ड
आयरलैंड के खिलाफ दूसरे टी-20 में इतने छक्‍के लगाए की बन गया ये रिकॉर्ड

राहुल की ताबड़तोड़ बल्‍लेबाजी से भारतीय टीम ने 4 विकेट पर 213 रन का स्‍कोर खड़ा किया। कर्नाटक के इस बल्‍लेबाज ने 36 गेंदों पर 3 चौकों और 6 छक्‍कों की मदद से 70 रन ठोक डाले। राहुल को उनकी इस शानदार पारी के लिए मैन ऑफ द मैच घोषित किया गया।

जीत के बाद राहुल ने कहा, ‘ मेरे लिए सबसे अहम चीज ये थी कि मुझे जो मौका मिला है उसका मैं लाभ उठा सकूं। यह एक अच्‍छा विकेट था। मैंने यहां बल्‍लेबाजी का जमकर लुत्‍फ उठाया। मैं आईपीएल में अच्‍छी फॉर्म के साथ इस सीरीज में आया था। इसलिए मैं इसे जारी रखना चाहता था और इसका भरपूर लुत्‍फ उठाना चाहता था।’

भारतीय टीम ने दो मैचों की सीरीज 2-0 से अपने नाम की। मेहमान टीम इंडिया ने दूसरा मैच 143 जबकि पहला मैच 76 रन से अपने नाम किया था।

बकौल राहुल, ‘ वो छोटी गेंदों का इस्‍तेमाल कर रहे थे। इसलिए मैंने क्रीज की गहराई का फायदा उठाना शुरू कर दिया था। और इसने मेरे लिए काम भी किया। मुझे बैकफुट पर खेलने पर रन भी मिले। क्रिकेट में हमेशा आपको अपनी तकनीक में बदलाव करने की जरूरत होती है। जब भी मैं बैंच पर बैठता हूं तो मैं खुद से वादा करता हूं कि मुझे टीम में एक बड़ी पारी खेलकर वापसी करनी है।’