Kuldeep Yadav sought advice from his coach before second T20 against england
kuldeep yadav © AFP

इंग्लैंड दौरे पर अपनी गेंदबाजी से तहलका मचा रहे भारतीय क्रिकेट टीम के चाइना मैन गेंदबाज कुलदीप यादव के कोच का मानना है कि आईपीएल के बाद कराया गया अभ्यास काफी काम आ रहा है और उन्हें उम्मीद है कि आने वाले मैचों में उनका यह शिष्य कामयाबी के नए कीर्तिमान स्थापित करेगा।

जीत के बाद कप्‍तान सरफराज बोले- बल्‍लेबाजों की मददगार नहीं थी पिच
जीत के बाद कप्‍तान सरफराज बोले- बल्‍लेबाजों की मददगार नहीं थी पिच

कानपुर के रहने वाले कुलदीप के कोच कपिल पांडे उन्हें 2004 से क्रिकेट का ककहरा सिखा रहे हैं जब वह 10 साल के थे। कुलदीप ने मैनचेस्टर में इंग्लैंड के खिलाफ पहले टी20 मैच में 24 रन देकर पांच विकेट लिए।

पांडे ने विशेष बातचीत में कहा कि कल इंग्लैड में होने वाले दूसरे टी 20 से के लिए भी उन्होंने कुलदीप को टिप्स दिए।

पांडे ने बताया , ‘मैने आज कुलदीप को सलाह दी कि पहले टी 20 मैच की तरह ही हवा में धीमी और तेज गेंदबाजी दोनो करनी है और कभी ओवर द विकेट और कभी राउंड द विकेट गेंदबाजी करना है। मैंने उससे कहा कि गेंदबाजी में विविधता बरकरार रखना और बल्लेबाजों को अपनी गेंद पढने का मौका न देना।’

च ने कहा ,‘अब कुलदीप पहले से काफी बेहतर हो गया है क्योंकि पहले उस पर अच्छे प्रदर्शन का दबाव होता था लेकिन जब से टीम में उसकी जगह पक्की हुई है तब से उसमें आत्मविश्वास बढ़ गया है।’

‘आईपीएल के बाद 7 दिन तक गेंदबाजी का कराया अभ्‍यास’

कपिल ने कहा ,‘आइपीएल खेलने के बाद कुलदीप को मैंने सात दिन तक गेंदबाजी का अभ्यास कराया । मैंने उससे कहा था कि इंग्लैंड के दौरे पर तुम्हें ज्यादा मेहनत करनी होगी। इंग्लिश बल्लेबाज अनुभवी हैं और उन्हें अलग तरह से गेंद फेंकनी होगी।’

उन्होंने कहा कि यही कारण है कि कुलदीप ने इंग्लैंड के खिलाफ पहले टी-20 में उसने खुद को लचीला रखा। वह अंगुलियों का सही इस्तेमाल कर रहा था और उसकी गेंद विकेट कीपर महेंद्र सिंह धोनी के सीने तक आ रही थी, जो अच्छा संकेत है।