Lalchand Rajput wants to replicate Afghanistan success with zimbabwe
Lalchand Rajput © CricketCountry

लालचंद राजपूत जिम्बाब्वे की टीम को भी अफगानिस्तान क्रिकेट टीम की तरह सफल बनाना चाहते हैं, जिन्हें हाल में टीम का अंतरिम मुख्य कोच नियुक्त किया गया है राजपूत ने हीथ स्ट्रीक की जगह ली है जिन्हें बर्खास्त कर दिया गया था।

ओपनर शिखर धवन ने हासिल की खास उपलब्धि, बने 7वें भारतीय
ओपनर शिखर धवन ने हासिल की खास उपलब्धि, बने 7वें भारतीय

राजपूत के मार्गदर्शन में अफगानिस्तान ने आईसीसी में पूर्ण सदस्यता दर्जा हासिल की और छह सीमित ओवरों की सीरीज जीती। उन्होंने जिम्बाब्वे या बांग्लादेश को छोड़कर पूर्ण सदस्य वेस्टइंडीज पर भी इस प्रारूप में एक वनडे में मनोबल बढ़ाने वाली जीत दर्ज की थी।

अफगानिस्तान को हाल में टेस्ट दर्जा दिया गया और टीम अपना पहला टेस्ट अगले महीने बंगलौर में भारत के खिलाफ खेलेगी। राजपूत ने कहा ,‘जब मैं अफगानिस्तान से जुड़ा था तो कोई नहीं जानता था कि वह इस स्तर तक पहुंचेगा। और हमें (अफगानिस्तान) को टेस्ट दर्जा मिल गया। हमने कोई भी सीरीज नहीं गंवाई। अब लोग अफगानिस्तान के बारे में बात कर रहे हैं कि वे अच्छा कर रहे हैं। मैं जिम्बाब्वे के साथ भी यही होते हुए देखना चाहता हूं।’

उन्होंने कहा,‘मैं खुश हूं कि जिम्बाब्वे ने मुझे इस पद के लिये संपर्क किया और वे मेरी सेवाएं चाहते हैं। यह देखकर अच्छा लगता है कि अंतरराष्ट्रीय टीम मेरी प्रतिभा देख रही हैं। यह मेरे लिए बड़ी चुनौती है क्योंकि जिम्बब्वे ने 2019 विश्व कप के लिए क्वालीफाई नहीं किया है, इसलिए लोग इसके बारे में बात कर रहे हैं। लेकिन मैं इसे चुनौती के रूप में ले रहा हूं और मुझे चुनौतियां पसंद हैं।’