Liam Plunkett’s four-wicket haul led England to 38 run win against Australia despite Shaun Marsh’s century
Jason Roy © Getty Images

सलामी बल्लेबाज जेसन रॉय की शानदार शतकीय पारी और लियाम प्लंकेट के चार विकेट हॉल की मदद से इंग्लैंड ने दूसरे वनडे में ऑस्ट्रेलिया टीम को 38 रनों से हराकर सीरीज पांच मैचों की सीरीज में 2-0 से बढ़त बना ली है। रॉय kकी 108 गेंदो पर 120 रनों की पारी की मदद से इंग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया के सामने 343 रनों का लक्ष्य रखा। लक्ष्य का पीछा करने उतरी ऑस्ट्रेलिया टीम को शॉन मार्श की 131 रनों की शानदार पारी भी नहीं बचा सकी। लियाम प्लंकेट और आदिल राशिद की घातक गेंदबाजी के सामने कंगारू टीम 304 के स्कोर पर ही सिमट गई।

अनुष्‍का ने कचरा फेंकने वाले को लगाई डांट, कोहली ने शेयर किया वीडियो
अनुष्‍का ने कचरा फेंकने वाले को लगाई डांट, कोहली ने शेयर किया वीडियो

टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का टिम पेन का फैसला उनकी टीम के हक में नहीं गया। जेसन रॉय और जॉनी बियरस्टो की सलामी जोड़ी ने इंग्लैंड को शानदार शुरुआत दिलाई। दोनों ने मिलकर पहले विकेट के लिए 63 रन जोड़े। अर्धशतक के करीब पहुंच रहे बियरस्टो केन रिचर्डसन के ओवर में विकेटकीपर टिम पेन को कैच थमा बैठे। आउट होने से पहले उन्होंने 24 गेंदो पर 42 रनों की धमाकेदार पारी खेली। बियरस्टो के पवेलियन लौटने के बाद भी जेसन रॉय का बल्ला नहीं थमा। उन्होंने लगातार शानदार बल्लेबाजी करते हुए अपना शतक पूरा किया। इयॉन मार्गन की जगह दूसरे वनडे में कप्तानी कर रहे जोस बटलर ने भी 91 रनों की धमाकेदार पारी खेली। जिसकी मदद से इंग्लैंड ने 8 विकेट पर 342 रन बनाए।

343 के लक्ष्य का पीछा करने उतरी ऑस्ट्रेलिया टीम की शुरुआत खास अच्छी नहीं रही। पारी के चौथे ओवर में टीम को पहला झटका लगा जब ट्रेविस हेड मार्क वुड की गेंद पर कैच आउट हो गए। अपना डेब्यू मैच खेल रहे डार्सी शॉर्ट भी खास प्रभावित नहीं कर सके और 21 रन बनाकर मोइन अली का शिकार बने। तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करने आए शॉन मार्श ने पारी को संभाला लेकिन दूसरे छोर पर उन्हें किसी का साथ नहीं मिला। मार्कस स्टोइनिस (9) के आउट होने के बाद एरन फिंच भी शून्य के स्कोर पर पवेलियन लौट गए। ग्लेन मैक्सवेल (31) और एश्टन एगर (46) ने मार्श के साथ छोटी साझेदारियां बनाई लेकिन 43 ओवर तक दोनों खिलाड़ी पवेलियन लौट गए।

46वें ओवर में कप्तान टिम पेन के आउट होने के बाद उसी ओवर की चौथी गेंद पर मार्श भी 131 रन बनाकर प्लंकेट का शिकार बने। मार्श के पवेलियन लौटने के बाद ऑस्ट्रेलिया की जीत की आखिरी उम्मीद टूट गई। राशिद और प्लंकेट ने मिलकर निचले क्रम के बल्लेबाजों को समेटा और 47.1 ओवर में ही ऑस्ट्रेलिया टीम को ऑलआउट कर 38 रनों से मैच जीत लिया।

गौरतलब है कि कल यानि कि 16 जून को ऑस्ट्रेलिया की राष्ट्रीय टीमें क्रिकेट के साथ फुटबॉल और रग्बी के मैच भी खेल रही थी। लेकिन बदकिस्मती से ऑस्ट्रेलिया तीनों ही मैचों में हार गई।