Mark Waugh calls BCCI ‘Selfish’ for Not Playing Day-Night Test
The first day-night Test was played between Australia and New Zealand © Getty Images

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व क्रिकेटर मार्क वॉ ने दिन-रात टेस्ट न खेलने के भारत के फैसले को मतलबी रवैया बताया है। भारत को इस साल दिसंबर में ऑस्ट्रेलियाई दौरे पर तीन टेस्ट मैच खेलने हैं। एडिलेड टेस्ट मैच को डे-नाइट फॉर्मेट में आयोजित कराने की योजना थी।

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) को साफ तौर पर कह दिया है कि इस साल के अंत में होने वाले दौरे पर भारतीय टीम दिन-रात प्रारूप में टेस्ट मैच नहीं खेलेगी।
उन्होंने कहा , ‘‘कुछ देशों में डे-नाइट टेस्ट क्रिकेट कुछ इस तरह का साबित होगा जो टेस्ट क्रिकेट को उसी रूप में बदल देगा जैसा इसे होना चाहिए। इसलिये सिर्फ आस्ट्रेलिया , भारत और इंग्लैंड ही ऐसे स्थान हैं जहां टेस्ट क्रिकेट बचा है और अच्छा चल रहा है। मेरे लिये यह चिंता की बात है। ’’

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने बीसीसीआई को एडिलेड ओवल में दिन रात्रि टेस्ट खेलने के लिये मनाने की कोशिश की लेकिन भारतीय बोर्ड ने इस पेशकश को यह कहते हुए ठुकरा दिया कि वह अभी ‘गुलाबी गेंद के क्रिकेट’ को खेलने के लिये तैयार नहीं है। वॉ जल्द ही ऑस्ट्रेलियाई टीम चयनकर्ता पद से हट जायेंगे , उन्होंने कहा कि वह समझ नहीं पा रहे हैं कि भारत ने दूधिया रोशनी में खेलने से इनकार क्यों किया।

उन्होंने कहा , ‘‘ उनकी टीम डे-नाइट क्रिकेट को अच्छी तरह खेल सकती है , उनके पास कई तेज गेंदबाज हैं इसलिये उन्हें सिर्फ स्पिनरों पर ही निर्भर रहने की जरूरत नहीं है और उनके बल्लेबाज भी तकनीकी रूप से बेहतरीन हैं। ’’