रोहित शर्मा © IANS
रोहित शर्मा © IANS

मुंबई इंडियन्स के कप्तान रोहित शर्मा ने किंग्स इलेवन पंजाब पर आठ विकेट की जीत को शानदार करार देते हुए कहा कि आईपीएल 10 के इस मैच ने उन्हें 2014 के उस मैच की याद दिला दी जिसमें उनकी टीम ने राजस्थान रॉयल्स के बड़े स्कोर को 14 ओवर में पीछे छोड़ दिया था। किंग्स इलेवन ने हाशिम अमला के नाबाद 104 रन की मदद से चार विकेट पर 198 रन बनाये लेकिन मुंबई जोस बटलर और नितीश राणा के तेजतर्रार अर्धशतकों से 15.3 ओवर में दो विकेट पर 199 रन बनाकर आसान जीत दर्ज की।

रोहित ने मैच के बाद कहा, ‘‘यह बेमिसाल मैच था। जिसने मुझे 2014 की याद दिला दी जब हम रॉयल्स के खिलाफ 190 रन का लक्ष्य 14 ओवर में हासिल किया था। 15.3 ओवर में लक्ष्य हासिल करना शानदार है। हाशिम अमला ने बेहतरीन पारी खेली लेकिन हमने बहुत अच्छी तरह से मैच का अंत किया।’’ उन्होंने कहा, ‘‘जोस और पार्थिव ने जिस तरह से शुरूआत की वह शानदार थी। हमारे पास इस तरह के विस्फोटक बल्लेबाज हैं। हमें 199 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए इस तरह की शुरूआत की जरूरत थी।’’ रोहित ने कहा कि गेंदबाजी उनके लिये चिंता का विषय नहीं है। उन्होंने कहा, ‘‘हमें इस पर गौर करना होगा। वे मैच विजेता हैं और कई वर्षों से अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। टूर्नामेंट का दूसरा चरण महत्वपूर्ण होगा और हमें अपनी विजयी लय जारी रखनी होगी।’’ फुल स्कोरकार्ड: मुंबई इंडियंस बनाम किंग्स इलेवन पंजाब, स्कोरकार्ड पढ़ने के लिए क्लिक करें…

मुंबई इंडियन्स के मैच जिताउ बल्लेबाज जोस बटलर ने कहा कि टॉस जीतकर विपक्षी टीम को बल्लेबाजी का न्योता देना उनके खेमे के लिये खासा फायदेमंद साबित हुआ। ‘मैन ऑफ द मैच’ चुने गये बटलर ने अपनी टीम की जीत के बाद संवाददाताओं से कहा, ‘होलकर स्टेडियम का मैदान देश के दूसरे मैदानों के मुकाबले छोटा है। बल्लेबाजी के लिहाज से विकेट कमाल का था और टॉस जीतना हमारे लिये फायदेमंद साबित हुआ।’ उन्होंने कहा, ‘हमारे खिलाड़ी फॉर्म में हैं और आत्मविश्वास से भरे हैं। हमें रनों का कितना भी बड़ा लक्ष्य हासिल करने में दिक्कत नहीं हो रही है। मैं आज के मैच में अपनी पारी से टीम की जीत में योगदान कर प्रफुल्लित हूं।’ किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ 37 गेंदों पर सात चौकों और पांच छक्कों की मदद से 77 रन जड़ने वाले सलामी बल्लेबाज ने कहा, ‘199 रनों के विजयी लक्ष्य का पीछा करने के लिये हमने तेज शुरूआत की। हम रनों के सिलसिले को फटाफट आगे बढ़ाकर विपक्षी टीम पर दबाव बनाने में कामयाब रहे।’