Micheal Hussy: Difficult for Australian cricket to regain credibility
ऑस्ट्रेलिया टेस्ट टीम © Getty Images

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व बल्लेबाज माइकल हसी का मानना है कि ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटरों के लिए गेंद से छेड़खानी विवाद के बाद खोई साख फिर हासिल करना कठिन होगा। हसी ने प्लेयर्स वॉइस डॉटकाम डॉट एयू पर लिखा, ‘‘मुझे लगता है कि पिछले कुछ साल में हम ये सिद्धांत भूल गए हैं। इस समय कई बेहतरीन खिलाड़ी ऑस्ट्रेलिया की नुमाइंदगी कर रहे हैं लेकिन गेंद से छेड़खानी का मसला अकेला ऐसा मसला नहीं है जिसमें टीम गलत कारणों से सुर्खियों में है।’’

बॉल टेंपरिंग मामले में स्‍टीवन स्मिथ, डेविड वार्नर पर लगा एक साल का बैन
बॉल टेंपरिंग मामले में स्‍टीवन स्मिथ, डेविड वार्नर पर लगा एक साल का बैन

उन्होंने लिखा, ‘‘अगले कुछ दिन, सप्ताह और महीने ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट के लिए मुश्किल होंगे। नौकरियां जायेंगी और कड़ी सजा मिलेगी। ये टीम के लिए एक मौका है कि वो खोई साख फिर से हासिल करे। हम सकारात्मक सोच और खेल भावना के साथ खेले।” चेन्नई सुपर किंग्स के बल्लेबाजी कोच हसी ने कहा, ‘‘आप जब राहुल द्रविड़ का नाम लेते हैं तो पहली बार आपके जेहन में क्या आता है। अगर आप कहेंगे कि उनके 28 शतक तो मुझे हैरानी होगी लेकिन मुझे तब कोई हैरानी नहीं होगी जब आप कहेंगे ‘द वाल ’। उसने सिद्धांतों और मूल्यों के साथ कभी समझौता नहीं किया।’’

हसी ने आगे कहा, “दोनों क्रिकेट और व्यापक व्यापारिक समुदाय के भीतर संगठन ये खेल याद करते हैं। जब वे यह आकलन कर रहे हैं कि आपको हस्ताक्षर करना है या नहीं, वे आपके चरित्र, आपकी प्रतिष्ठा को ध्यान में रखते हैं और चाहे आप अपने ब्रांड को बढ़ाते हैं।” हालांकि उन्हें उम्मीद है कि ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट इससे उबर सकेगा। उन्होंने कहा, “इसमें समय जरूर लगेगा, केवल कड़े फैसले लेने पर ही फैंस उन्हें दूसरा मौका देने को तैयार होंगे। मुझे लगता है कि हम वहां पहुंच जाएंगा और इसका रास्ता अपनी हरी टोपी की जिम्मेदारी समझने से शुरू होगा।”