Mithali Raj: Strong domestic setup needed before organising IPL for women
Mithali Raj © Getty Images

आईपीएल-11 अगले महीने सात मई से शुरू हो रहा है। इस बार पुरुषों के साथ-साथ कुछ मैच महिला टीमों के कराने की भी योजना है। बीसीसीआई के प्रशासकों की समिति के प्रमुख सीओए विनोद राय इसे पहले ही अपनी मंजूरी दे चुके हैं, लेकिन अगर भारतीय महिला टीम की कप्‍तान मिताली राज की माने तो इस तरह का प्रयोग तबतक सफल नहीं हो सकता, जबतक हम अपने घरेलू क्रिकेट को मजबूत नहीं कर लेते।

मैच की आखिरी गेंद पर मैने आंखें बंद कर ली, आंख खुली तो जान में जान आई: विजय शंकर
मैच की आखिरी गेंद पर मैने आंखें बंद कर ली, आंख खुली तो जान में जान आई: विजय शंकर

पत्रकारों से बातचीत के दौरान मिताली राज ने कहा, “मौजूदा समय में भारतीय महिला क्रिकेट का घरेलू ढांचा बेहद कमजोर है। इसे मजबूत किए जाने की सख्‍त जरूरत है। मौजूदा समय में भारत ए महिला टीम में ही अच्‍छे खिलाड़ियों की दरकार है। ऐसे में हम आईपीएल के लिए नए खिलाड़ियों का पूल कहा से लाएंगे।”

मिताली राज ने कहा, “सबसे पहले हमें महिला क्रिकेट के लिए खिलाड़ियों का एक पूल तैयार करना होगा, जो आईपीएल के लिए तैयार हो सके।” ये मेरी निजी राय है कि जब घरेलू ढांचा मजबूत होगा तभी खिलाड़ियों को आईपीएल में मौका देने का मतलब बनता है। झुलन गोस्‍वामी ने भी मिताली की बात से सहमति जाहिर की।

हाल ही में भारतीय महिला क्रिकेट टीम ऑस्‍ट्रेलिया की महिला टीम से तीन मैचों की वनडे सीरीज बुरी तरह हारी है। भारतीय टीम सीरीज में एक मैच भी नहीं जीत पाई। मेहमान टीम हमारे घर पर ही हमे क्‍लीन स्‍वीप करने में सफल रही। अब 22 मार्च से भारतीय महिला टीम को टी-20 ट्राई सीरीज खेलनी है, जिसमें ऑस्‍ट्रेलिया के अलावा इंग्‍लैंड की टीम हिस्‍सा लेगी।