Mohammad Aamer feels T10 is a high-pressure format
मोहम्मद आमिर टी10 लीग में मराठा अरेबियंस के लिए खेल रहे हैं © Getty Images

दुबई में आयोजित पहले टी10 क्रिकेट टूर्नामेंट में हिस्सा ले रहे पाकिस्तानी तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर का मानना है कि इस नए फॉर्मेट में खिलाड़ियों पर काफी दबाव रहता है। वीरेंद्र सहवाग की कप्तानी में मराठा अरेबियंस के लिए खेल रहे आमिर ने कहा, “इस फॉर्मेट में सब कुछ डॉट गेंदो पर निर्भर करता है। आप जितनी ज्यादा डॉट गेंद डालते हैं, आपका आत्मविश्वास उतना बढ़ जाता है। अगर आप टी10 क्रिकेट में रन नहीं लुटा रहे हैं तो टी20 क्रिकेट आपको लंबा फॉर्मेट लगेगा। ये काफी दबाव वाला फॉर्मेट है और अगर आप यहां अच्छा करते हैं, तो टी20 क्रिकेट में आपको कम दबाव महसूस होगा। एक तरीके से ये गेंदबाजों की कड़ी परीक्षा लेने वाले फॉर्मेट है।”

टी10 क्रिकेट लीग, सेमीफाइनल: पख्तूंस से होगा पंजाबी लेजेंड्स का सामना; केरल किंग्स से टकराएंगे मराठा अरेबियंस
टी10 क्रिकेट लीग, सेमीफाइनल: पख्तूंस से होगा पंजाबी लेजेंड्स का सामना; केरल किंग्स से टकराएंगे मराठा अरेबियंस

आमिर की टीम मराठा अरेबियंस आज केरल किंग्स के खिलाफ सेमीफाइनल मैच खेलेगी। टी10 फॉर्मेट में गेंदबाजी के बारे में बात करते हुए आमिर ने कहा, “अपनी क्षमता को परखने के लिए ये फॉर्मेट अच्छा है क्योंकि आपको हर एक गेंद के बारे में सोचना पड़ता है। इसलिए जरूरी है कि आप यॉर्कर और धीमी गेंद अच्छे से करा सकें क्योंकि बल्लेबाज साधारण लेंथ गेंद को अच्छे से खेल लेंगे।” आमिर मानते हैं कि टेस्ट क्रिकेट की तुलना टी20 या टी10 से करना असंभव है लेकिन टी10 जैसे फॉर्मेट गेंदबाजों को हर तरह की स्थिति के लिए तैयार करता है।

आमिर ने आगे कहा, “टेस्ट क्रिकेट एकदम अलग फॉर्मेट है। आपको लंबे स्पेल डालने होते हैं। फिर आपको लाल गेंद को ध्यान में रखना होता है। स्विंग को भी ध्यान में रखना पड़ता है। आप टी20 और टेस्ट की तुलना नहीं कर सकते हैं लेकिन पेशेवर खिलाड़ी के तौर पर आपको हर स्थिति में खुद को ढालना पड़ता है।” आमिर ने अब तक मराठा अरेबियंस टीम के लिए एक मैच में 8.83 की इकॉनामी रेट से 6 ओवर में एक विकेट लिया है।