मोहम्मद मशहजाद © Getty Images
मोहम्मद मशहजाद © Getty Images

अफगानिस्तान के विकेटकीपर और आक्रामक बल्लेबाज मोहम्मद शहजाद पर आईसीसी ने एक साल का बैन लगा दिया है। मोहम्मद शहजाद डोपिंग के दोषी पाए गए हैं जिसके बाद आईसीसी ने उन पर ये कार्रवाई की है। शहजाद ने अपना वजन घटाने के लिए एक प्रतिबंधित दवाई ली, जिसके बाद वो डोप टेस्ट में फेल हो गए। शहजाद ने आईसीसी के सामने माना कि उन्होंने वजन घटाने के लिए हाईड्रॉक्सीकट नाम का सप्लीमेंट खाया था।

मोहम्मद शहजाद का 17 जनवरी 2017 को दुबई में डोप टेस्ट हुआ था। अध्य्यन में पता चला कि उन्होंने क्लेनब्यूटरोल खाया है। क्लेनब्यूटेरोल वाडा की प्रतिबंधित दवाओं की लिस्ट में आता है। इसके बाद शहजाद ने अपनी गलती मान ली और उन पर 12 महीनों का बैन लगा दिया गया। हालांकि शहजाद का ये बैन 17 जनवरी 2017 से ही लागू होगा और वो 17 जनवरी 2018 से एक बार फिर क्रिकेट खेल सकेंगे।

आपको बता दें हाल ही में अफगानिस्तान की टीम और उसके खिलाड़ियों ने खासा नाम कमाया है। लेग स्पिनर राशिद खान के अलावा बल्लेबाज मोहम्मद शहजाद पूरी दुनिया में अपने खेल के लिए मशहूर हैं। शहजाद ने 59 वनडे और 57 टी-20 मैच खेले हैं। वनडे नें शहजाद ने 4 शतक और 9 अर्धशतकों की मदद से 33.98 की औसत से 1937 रन बनाए हैं। टी-20 में शहजाद ने 31.54 की औसत से 11 अर्धशतक और 1 शतक की मदद से 1703 रन बनाए हैं।

 

एक कैच बना देगा 'लखपति', कैच पकड़ने पर मिलेंगे 22 लाख रु.!
एक कैच बना देगा 'लखपति', कैच पकड़ने पर मिलेंगे 22 लाख रु.!

शहजाद पर लगे बैन के बाद आईसीसी ने बयान जारी करते हुए कहा कि उनका ये फैसला अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ियों को एक बार फिर चेताएगा कि वो सप्लीमेंट्स ना लें। कोई भी सप्लीमेंट्स लेने से पहले खिलाड़ियों को उसके नुकसान देखने चाहिए।