Mohammed Shami dismisses allegation against his brother; Calls Hasin Jahan’s accusations baseless
मोहम्मद शमी © PTI

लगातार सुर्खियों में बने मोहम्मद शमी केस पर भारतीय तेज गेंदबाज ने सामने आकर प्रतिक्रिया दी है। बता दें कि शमी की पत्नी हसीन जहां ने उनके खिलाफ कोलकाता पुलिस में एफआईआर दर्ज कराई है, जिसमें शमी के साथ उनके भाई का नाम भी शामिल है। हसीन जहां ने शमी पर घरेलू हिंसा और कत्ल की कोशिश का आरोप लगाया हैं, वहीं उनके भाई के खिलाफ बलात्कार का केस दर्ज कराया है। शमी ने एबीपी न्यूज चैनल को दिए इंटरव्यू में मामले पर खुलकर बात की। इस भारतीय क्रिकेटर ने हसीन के लगाए सारे आरोपों को गलत बताया है और अपने भाई को बेकसूर कहा है।

निदाहास ट्रॉफी 2018, छठां टी20: महमदुल्लाह की धमाकेदार बल्लेबाजी से बांग्लादेश फाइनल में पहुंचा
निदाहास ट्रॉफी 2018, छठां टी20: महमदुल्लाह की धमाकेदार बल्लेबाजी से बांग्लादेश फाइनल में पहुंचा

शमी ने कहा कि हसीन ने जब उनके भाई पर आरोप लगाए हैं, तब तो वो वहां थे भी नहीं। शमी ने बताया कि उनके भाई मोरादाबाद में थे, जबकि हसीन उनके गांव अमरोहा में थी। शमी ने ये भी कहा कि उनकी पत्नी ने उनके भाई से सवाल जवाब किए थे। दरअसल शमी की गैरमौजूदगी में उनके भाई ही घर की सारे फाइनांशियल मामले देखते हैं। शमी को इस बात कर हैरानी हुई कि हसीन ने उन पर आर्थिक तौर पर उनकी देखभाल ना करने का आरोप लगाया है। उन्होंने बताया कि हसीन अब भी उन्हीं का डेबिट कार्ड इस्तेमाल कर रही हैं। शमी ने कहा कि उन्होंने भुवनेश्वर कुमार की शादी के समय हसीन को 18 लाख का नेकलेस लेकर दिया था।

हसीन ने शमी पर दूसरी औरतों के साथ अवैध संबंध के आरोप भी लगाए हैं। हसीन का कहना है कि शमी 2017 के श्रीलंका दौरे पर अपनी पाकिस्तानी गर्लफ्रेंड को ले जाना चाह रहे थे। शमी ने इन आरोपों को बेबुनियाद बताया है। अपना पक्ष रखते हुए शमी ने कहा कि हसीन ने उन्हें उनके परिवार से अलग कर दिया और कोलकाता में बसने के लिए मजबूर किया।