Mumbai Police use ball-tampering scandal to warn people follow the rules
डेविड वार्नर, स्‍टीवन स्मिथ © Getty Images

बॉल टेंपरिंग विवाद ने बीते दिनों क्रिकेट जगत को हिला कर रख दिया। केपटाउन में खेले गए तीसरे टेस्‍ट मैच के दौरान ऑस्‍ट्रेलियाई खिलाड़ियों ने बॉल से छेड़छाड़ की। ये पूरी घटना कैमरे में कैद हुई तो पूर्व कप्‍तान स्‍टीवन स्मिथ ने अपनी गलती स्‍वीकार कर ली। आईसीसी ने तो इस घटना में शामिल खिलाड़ियों को मामूली सजा दी, लेकिन क्रिकेट ऑस्‍ट्रेलिया ने स्मिथ, वार्नर पर एक साल तक क्रिकेट खेलने का बैन लगा दिया। साथ ही बॉल को सेंडपेपर से खराब करने वाले कैमरून बैनक्रॉफ्ट पर नौ महीने का बैन लगाया गया। वापस देश लौटने के बाद अपनी गलती स्‍वीकारते हुए स्मिथ, वार्नर मीडिया के सामने फूट-फूट कर रोते दिखे। जिस किसी ने भी स्मिथ, वार्नर की रोती हुई तस्‍वीरें देखी तो हैरान रह गया। अबतक क्रिकेट के इतिहास में किसी खिलाड़ी को शायद ही फैन्‍स ने फूट-फूट कर रोते देखा होगा।

चर्चा में बने हुए बॉल टेंपरिंग विवाद को अब मुंबई पुलिस ने भी अच्‍छे से भुनाया है। हाल ही में मुंबई पुलिस ने अपने अधिकारिक ट्विटर अकाउंट से एक ट्वीट किया। इस ट्वीट में उन्‍होंने बॉल से छेड़दाड़ करने वाले बैनक्रॉफ्ट की हरकत को दिखाया है। साथ ही उस कैमरामैन को भी दिखाया गया है जिसने बिना देरी करे बॉल टेंपरिंग में इस्‍तेमाल सेंडपेपर को छुपा रहे बैनक्रॉफ्ट को कैमरे में कैद किया।

तस्‍वीर के उपर मुंबई पुलिस ने लिखा है कि गेंद ने कैमरे से क्‍या कहा। फोटो के नीचे लिखा है वेल रोल्‍ड। अन-टेंपर्ड विजन। यानी कैमरामैन सही तस्‍वीर सबके सामने लेकर आया।  अपने ट्वीट में मुंबई पुलिस ने संदेश दिया, ” हमारे पास शहर में अपने सीसीटीवी कैमरा मौजूद हैं जो मुंबई की हर स्‍ट्रीट को कवर कर रहे हैं। लिहाजा नियमों का पालन करो और कैमरे में कैद होने से बचो।”