Mustafizur Rahman forbidden by BCB to participate in overseas domestic T20 tournaments for two years
Mustafizur Rahman © AFP (File photo)

तेज गेंदबाज मुस्ताफिजुर रहमान को चोटों से बचने के लिए बांग्लादेशी क्रिकेट बोर्ड ने कड़ा कदम उठाने का फैसला लिया है। बीसीबी ने इस खिलाड़ी को अगले दो साल तक विदेशी टी20 लीगों में खेलने से मना कर दिया है। बीसीबी के अध्यक्ष नजमुल हसन ने शुक्रवार को ये फैसला सुनाया।

दरअसल आईपीएल 2018 के दौरान मुंबई इंडियंस के लिए खेलते हुए रहमान को पैर के अंगूठे में चोट लग गई थी, जिसके बाद वो अफगानिस्तान और वेस्टइंडीज के खिलाफ सीरीज नहीं खेले थे। मुस्ताफिजुर टीम के प्रमुख गेंदबाज हैं, ऐसे में उनका बार-बार चोटिल होना टीम के लिए सही नहीं है।

वनडे क्रिकेट में आठवीं बार बना दोहरा शतक, सबसे ऊपर भारतीय
वनडे क्रिकेट में आठवीं बार बना दोहरा शतक, सबसे ऊपर भारतीय

नजमुल ने अपने आधिकारिक बयान में कहा, “मैने उसे बता दिया है कि वो अगले दो साल तक विदेश (फ्रेंचाइजी आधारित टूर्नामेंट के लिए) में नहीं खेलेगा। इस तरह से नहीं चल सकता है। वो फ्रेंचाइजी लीगों में खेलते समय चोटिल हो जाएगा और फिर राष्ट्रीय टीम के लिए खेलने को उपलब्ध नहीं रहेगा। ये स्वीकार नहीं किया जा सकता है। ये नहीं चल सकता कि वो बोर्ड के देखरेख में रीहैब से गुजरे और अपनी चोट से उबरने के बाद फिर से उन्हीं लीगों में खेलकर, फिर वही खतरा उठाए।”

आईपीएल 2018 में मुस्ताफिजुर रहमान पहली बार चोटिल नहीं हुए हैं। साल 2016 में टी20 ब्लास्ट में खेलते हुए रहमान को पहली बार कंधे में चोट लगी थी। 2017 में दक्षिण अफ्रीका दौरे पर अभ्यास के दौरान फुटबॉल खेलते समय रहमान की ऐड़ी में चोट आई थी।