NGT seeks reply from Government, BCCI on plea alleging misuse of water during IPL
Virat Kohli © Getty Images

आईपीएल जितनी तेजी से क्रिकेट प्रेमियों के बीच जगह बना रहा है उतनी ही तेजी से इसके साथ विवाद भी जुड़ते रहे है। हालांकि तमाम विवादों के बीच लोगों का इस लीग पर आज भी भरोसा बरकरार है। ताजा विवाद आईपीएल मैचों के दौरान पानी की बर्बादी को लेकर उठा है। आरोप लगाया गया है कि आईपीएल मैच के आयोजन के दौरान काफी मात्रा में पानी बर्बाद किया जाता है। राजस्‍थान के अलवर के रहने वाले हैदर अली ने नेशनल ग्रीन ट्रिब्‍यूनल में आईपीएल में पानी की बर्बादी को लेकर एक याचिका लगाई है।

याचिकाकर्ता ने एनजीटी के समक्ष कहा है कि आईपीएल मैचों के दौरान रोजाना लाखों लीटर पानी की बर्बादी होती है। मैदान में पानी का छिड़काव किया जाता है। एनजीटी ने इस याचिका पर केंद्र सरकार, बीसीसीआई को नोटिस जारी कर अगली तारीख तक अपना जवाब दाखिल करने के लिए कहा है। जस्टिस जावेद रहीम की अध्यक्षता वाली बैंच ने जल संसाधन मंत्रालय , भारतीय क्रिकेट बोर्ड और उन नौ राज्यों को नोटिस भेजा है जहां आईपीएल-11 के दौरान मैच होनें हैं। सभी पक्षों को दो सप्ताह के भीतर जवाब देने के लिए कहा गया है । इस मामले में अब अगली सुनवाई 28 अप्रैल को है । याचिका में कहा गया है,‘‘संबंधित अधिकारियों को व्यावसायिक उद्देश्यों से इस टूर्नामेंट के आयोजन से रोका जाये जो नौ स्थानों पर होना है ।’’

आईपीएल-11 की शुरुआत सात अप्रैल से होगी। सभी फ्रेंजाइजी ने इस टूर्नामेंट के लिए अपनी कमर कस ली है। मंगलवार को किंग्‍स इलेवन पंजाब ने इस सीजन में उनकी टीम द्वारा पहने जाने वाली जर्सी लांच की। आईपीएल की तैयारियों के चलते ही विराट कोहली, महेंद्र सिंह धोनी, हार्दिक पांड्या, जसप्रीत बुमराह जैसे बड़े खिलाड़ी श्रीलंका में चल रही निदास ट्राफी नहीं खेल रही हैं। इस सीरीज के दौरान उन्‍हें बीसीसीआई ने आराम दिया है।