Nidahas Trophy 2018 : Any team can win on a particular day, Says Rohit Sharma
Rohit Sharma © Getty Images

निदास ट्रॉफी 2018 ट्राई सीरीज का पहला टी20 मैच आज शाम सात बजे से भारत और मेजबान श्रीलंका के बीच खेला जाना है। भारत और श्रीलंका के अलावा बांग्‍लादेश इस टूर्नामेंट में तीसरी टीम है। भारतीय टीम युवा खिलाड़ियों से भरी हुई है। दोनों टीमों के मुकाबले मौजूदा समय में भारतीय टीम काफी मजबूत नजर आ रही है, लेकिन कप्‍तान रोहित शर्मा की माने तो टी-20 में कभी भी कुछ भी हो सकता है। खेल के इस सबसे छोटे प्रारूप में कोई भी टीम कमजोर और मजबूत नहीं होती।

रोहित शर्मा ने कहा, ”टी-20 क्रिकेट का ऐसा प्रारूप है जिसमें खेल एक ओवर में ही बदल सकता है। एक समय में किसी टीम को लगता है कि वो दूसरी टीम पर हावी है और दूसरे ही पल खेल उसके हाथ से  मैच निकल जाता है। यहां कोई भी टीम किसी भी टीम को हरा सकती है। टी-20 में कोई टीम मजबूत जरूर हो सकती है, लेकिन इसमें कोई भी टीम किसी भी टीम को हराने की क्षमता रखती है।”

निदास टॉफी से भारत ने अपने छह बड़े खिलाडि़यों को आराम दिया है। कप्‍तान विराट कोहली, महेंद्र सिंह धोनी, हार्दिक पांड्या, कुलदीप यादव जैसे खिलाड़ियों को श्रीलंका नहीं भेजा गया है। ऐसे में भारतीय टीम की अगुवाई इस दोरे पर रोहित शर्मा के पास है। रोहित शर्मा से पूछा गया, “आपको इस दौरे पर भारत की सबसे मजबूत टीम न मिलकर एक दम नए खिलाड़ियों का सेनापति बनाया गया है।” इसपर रोहित ने कहा, मुझे इस बात से फर्क नहीं पड़ता की श्रीलंका दौरे के लिए पूरी टीम मुझे मिली है या नहीं। मैं बड़ा भाग्‍यशाली हूं कि मुझे टीम की अगुवाई करने का मौका मिला है। आज कल जिस तरह से मैचों का व्‍यस्‍त शिड्यूल रहता है उसे देखते हुए समय समय पर खिलाड़ियों को आराम दिया जाना बेहद जरूरी है। जब भी मुझे टीम की कप्‍तानी करने के लिए कहा जाता है तो मैं खुद को बेहद भाग्‍यशाली समझता हूं।”

रोहित ने कहा, “हमारे लिए ये हमेशा ही बेहद जरूरी है कि हम अपनी बैंच स्‍ट्रैंथ को आजमाकर देखें। ये खिलाड़ी लगातार इंडिया ए, रणजी ट्रॉफी, दिलीप ट्रॉफी जैसे घरेलू टूर्नामेंट में अच्‍छा प्रदर्शन कर रहे हैं, जिसके कारण ही उन्‍हें श्रीलंका दौरे के लिए चुना गया है। हम इन खिलाड़ियों को यहां मौका देखकर उनकी काबिलियत परखना चाहते हैं। इन खिलाड़ियों को सीधा आइसीसी के इवेंट में मौका न देकर इस तरह की द्विपक्षीय सीरीज में खिलाना सही सोच है।”

श्रीलंका टीम के कप्‍तान दिनेश चांडीमल ने कहा, ” जिस तरह से बीते कुछ समय में भारतीय टीम की परफोर्मेंस रही है उसे देखते हुए भारत की इस युवा व दूसरे दर्जे की टीम को हरा पाना भी हमारे लिए आसान नहीं होगा।”