Nidahas Trophy 2018: Kusal Perera regrets missing final, praises Bangladesh
Kusal Perera © Getty Images (file photo)

बांग्लादेश के खिलाफ निदास ट्रॉफी के आखिरी नॉकआउट मुकाबले में हार के बाद श्रीलंका टीम के बल्लेबाज कुशल परेरा ने कहा है कि एक टीम के तौर पर की गई गलतियां मेजबानों को भारी पड़ीं और इसी कारण वो फाइनल में जाने से महरूम रह गए। श्रीलंका ने पहले बल्लेबाजी करते हुए कुशल के 61 और तिषारा परेरा के 58 रनों की मदद से बांग्लादेश के सामने 160 रनों की चुनौती रखी थी। बांग्लादेश ने इसे एक गेंद शेष रहते हुए हासिल कर लिया था।

धोनी ने नेपाल को वनडे का दर्जा मिलने पर दी शुभकामनाएं
धोनी ने नेपाल को वनडे का दर्जा मिलने पर दी शुभकामनाएं

वेबसाइट ईएसपीएनक्रिकइंफो ने कुशल के हवाले से लिखा है, “एक टीम के तौर पर हमने अपनी रणनीति के पालन में कुछ गलतियां कीं। इस विकेट पर 160 शानदार स्कोर था। मैच के दौरान हमने जो फैसले लिए वो गलत साबित हुए। मैं मानता हूं कि गेंदबाजी, बल्लेबाजी और फील्डिंग में हमें सुधार करने की जरूरत है। इन क्षेत्रों में लगातार आगे सुधार करते हुए ही हम एक टीम के तौर पर आगे बढ़ सकते हैं।” कुशल ने तिषारा के साथ छठे विकेट के लिए 97 रनों की साझेदारी की और टीम को मुश्किल परिस्थिति से निकालते हुए सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया।

अपनी इस साझेदारी के बारे में कुशल ने कहा, “तिषारा और मैंने कुछ ओवर बल्लेबाजी करते हुए अच्छी वापसी की। मेरा मानना है कि विकेट घुमाव ले रही थी और थोड़ी धीमी थी। हम जानते थे की हमें कुछ देर रूकना है और छोर बदलने हैं। इसके बाद तिषारा और मैंने बात की और तय किया की हम तेज गेंदबाजों के आने का इंतजार करेंगे तब उन पर आक्रमण करेंगे।” बांग्लादेश रविवार को होने वाले फाइनल में भारत से भिड़ेगा।