Nidahas Trophy 2018: Thilanga Sumathipala calls Bangladeshi player’s behavior ‘regrettable and unacceptable’
थिसारा परेरा, नरुल हसन © AFP

श्रीलंका क्रिकेट के प्रमुख थिलंगा सुमतिपाला ने कल खेले गए टी20 मैच के दौरान बांग्लादेशी खिलाड़ियों के बर्ताव को ‘‘अफसोस जनक और अस्वीकार्य’’ करार दिया। मैच के आखिरी ओवर में अंपायरों के फैसले से नाराज शाकिब अल हसन पवेलियन से उतरकर बाउंड्री के पास पहुंच गए और उन्होंने अपने बल्लेबाजों को वापस लौटने का इशारा किया। बांग्लादेश के खिलाड़ियों ने दावा किया कि पारी के अंतिम ओवर में जब जीत के लिए 12 रन चाहिए थे। मैदानी अंपायरों ने इसुरू उडाना की जान बूझकर की गई लगातार दूसरी शार्ट पिच गेंद को नो बॉल नहीं दिया।

श्रीलंका के खिलाड़ियों से झगड़ने पर बांग्‍लादेश के कप्‍तान शाकिब अल हसन पर लगा जुर्माना
श्रीलंका के खिलाड़ियों से झगड़ने पर बांग्‍लादेश के कप्‍तान शाकिब अल हसन पर लगा जुर्माना

इन दोनों गेंद पर कोई रन नहीं बना और बांग्लादेश का एक खिलाड़ी रन आउट हो गया। सुमतिपाला ने कहा, ‘‘अंपायर के फैसले के खिलाफ ऐसा व्यवहार कहीं से स्वीकार्य नहीं है और ये खेदजनक है।’’ कुछ रिपोर्टों में दावा किया गया कि बांग्लादेश के खिलाड़ियों ने जीत का जश्न मनाते हुए ड्रेसिंग रूम के एक शीशे को तोड़ दिया।

बांग्लादेश के कप्तान शाकिब अल हसन और रिजर्व खिलाड़ी नुरूल हसन पर अलग अलग मामले में आईसीसी आचार संहित के उल्लंघन करने का दोषी पाए जाने पर मैच फीस का 25 प्रतिशत जुर्माना लगाया गया और इसके साथ ही उनके खाते में एक एक डिमेरिट अंक जोड़ दिया गया है।