Nidahas Trophy: Shakib Al Hasan joins Bangladesh team ahead of decider against Sri Lanka
Shakib Al Hasan © Getty Images

निदास ट्रॉफी 2018 में बुधवार को भारत से हारने के बाद 16 मार्च को बांग्‍लादेश के पास फाइनल में पहुंचने के लिए करो व मरो का मुकबला होगा। कुछ ऐसी ही स्थिति मेजबान श्रीलंका की भी है। दोनों टीमें ये मैच जीतकर 18 मार्च को भारत के खिलाफ फाइनल खेलना चाहेंगी। श्रीलंका और बांग्‍लादेश का मैच देनों टीमों के लिए फाइनल जैसा ही है, जिसे देखते हुए उंगली की चोट से घायल चल रहे बांग्‍लादेश के कप्‍तान शाकिब अल हसन की टीम में वापसी हो गई है। येे बांग्‍लादेश की टीम के लिए काफी अच्‍छी खबर है।

बांग्‍लादेश के कोच हबीबुल बाशर ने न्‍यूज एजेंसी को बताया, “शाकिब अब चोट से उबर गए हैं। वो 16 मार्च के मैच में श्रीलंका के खिलाफ खेलेंगे। मैच के बाद ही इस बात का निर्णय लिया जाएगा कि अगर टीम फाइनल में पहुंचती है तो शाकिब टीम का हिस्‍सा रहेंगे या नहीं।”  शाकिब टीम के कप्‍तान हैं। उंगली में चोट के कारण जनवरी में श्रीलंका के खिलाफ वनडे सीरीज से वो बाहर हो गए थे। निदास ट्राई सीरीज तक वो ठीक नहीं हो पाए, जिसके कारण सीनियर खिलाड़ी मेहमदुल्‍लाह को टीम का कप्‍तान बनाया गया था। बांग्‍लादेश क्रिकेट बोर्ड के तमाम बड़े अधिकारी इस वक्‍त श्रीलंका में हैं। अभी तक ये पुष्टि नहीं की गई है कि शाकिब टीम की कप्‍तान करेंगे या नहीं।

बांग्‍लादेश क्रिकेट के अंतरिम कोच कोर्टनी वाल्श ने कहा कप्‍तानी को लेकर जो भी निर्णय लिया जाएगा वो टीम के इंट्रस्‍ट में ही होगा। वहीं, श्रीलंका के कोच चंदिका हथुरुसिंघा ने कहा, ” ‘शाकिब को प्‍लेइंग इलेवन में खिलाने का निर्णय लेना बांग्‍लोदश की तरफ से डेसप्रेट कदम होगा। जब तक वो खेलने के लिए पूरी तरह से फिट नहीं हो जाते बांग्‍लादेश को उन्‍हें नहीं खिलाना चाहिए। अगर वो पूरी तरह से फिट हो गए हैं तो मेरी नजर में बांग्‍लादेश टीम के लिए वो काफी फायदेमंद होगा। वो दुनिया के नंबर एक ऑलराउंडर हैं।”